WhatsApp को अब बगैर फोन के एक साथ चार डिवाइस पर चला सकेंगे

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  



डिजिटल डेस्क, सैन फ्रांसिस्को। फेसबुक के स्वामित्व वाले इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp (व्हाट्सएप) ने अपनी नई मल्टी-डिवाइस क्षमता का बीटा वर्जन लॉन्च किया है। इसके तहत लोग जल्द ही अपने स्मार्टफोन के इस्तेमाल के बावजूद अधिकतम चार डिवाइस पर डेस्कटॉप या वेब अनुभवों का उपयोग कर सकते हैं। यहां तक कि जब उनके स्मार्टफोन बंद हो जाते हैं, उसी एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन के साथ वो उसका उपयोग कर सकते हैं।

व्हाट्सएप के प्रमुख विल कैथकार्ट ने व्हाट्सएप की अपडेटेड मल्टी-डिवाइस क्षमता के लिए एक सीमित सार्वजनिक बीटा परीक्षण के रोलआउट की घोषणा की है। मौजूदा स्थिति में, बीटा टेस्टर्स के सीमित समूह के साथ उपलब्ध है जो व्हाट्सएप के बीटा प्रोग्राम का हिस्सा हैं, और जल्द ही इसे वैश्विक स्तर पर रोल आउट किया जाएगा।

कैथकार्ट ने 14 जुलाई को एक बयान में कहा, इस नई क्षमता के साथ, अब आप अपने फोन और चार अन्य गैर-फोन डिवाइस पर एक साथ व्हाट्सएप का उपयोग कर सकते हैं, भले ही आपके फोन की बैटरी खत्म हो गई हो। एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन के माध्यम से गोपनीयता और सुरक्षा के समान स्तर को बनाए रखते हुए प्रत्येक साथी डिवाइस स्वतंत्र रूप से आपके व्हाट्सएप से कनेक्ट होगा, जो व्हाट्सएप का उपयोग करने वाले लोग उम्मीद करते आए हैं।

उन्होंने कहा, जरूरी यह है कि , हमने आपके डेटा को सिंक करने के दौरान एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन बनाए रखने के लिए नई तकनीकों का प्रयोग किया गया है – जैसे कांटेक्ट नेम, चैट आर्काइव ,स्टार्ट मैसेज और बहुत कुछ – सभी डिवाइस में। अब तक, व्हाट्सएप एक समय में केवल एक डिवाइस पर उपलब्ध था और डेस्कटॉप और वेब सपोर्ट केवल सक्रिय इंटरनेट कनेक्शन के साथ फोन को मिरर करके ही काम करता था।

वेब, मैकओएस, विंडोज और पोर्टल पर साथी उपकरणों के लिए वर्तमान व्हाट्सएप अनुभव प्राथमिक डिवाइस के रूप में एक स्मार्टफोन ऐप का उपयोग करता है, जिससे फोन सभी उपयोगकर्ता डेटा के लिए सत्य का स्रोत बन जाता है और एकमात्र डिवाइस है जो संदेशों को एंड-टू-एंड एन्क्रिप्ट करने में सक्षम है।

व्हाट्सएप ने कहा, यह आर्टेक्चर सुरक्षा से समझौता किए बिना फोन और साथी डिवाइस के बीच एक सहज सिंक्रनाइज अनुभव प्रदान करना आसान बनाता है। कंपनी ने कहा कि नया व्हाट्सएप मल्टी-डिवाइस आर्टेक्चर सभी बाधाओं को दूर करता है, अब यूजर्स डेटा को बिना किसा रोक और सुरक्षित रूप से सिंक्रनाइज कर सकते है।

मल्टी-डिवाइस की शुरूआत से पहले, व्हाट्सएप पर सभी की पहचान एक ही पहचान की द्वारा की जाती थी, जिससे सभी एन्क्रिप्टेड संचार कुंजी प्राप्त की जाती थीं। मल्टी-डिवाइस के साथ, प्रत्येक डिवाइस की अब अपनी पहचान कुंजी होती है। कैथकार्ट ने बताया, व्हाट्सएप सर्वर प्रत्येक व्यक्ति के खाते और उनकी सभी डिवाइस पहचान के बीच मैपिंग रखता है। जब कोई संदेश भेजना चाहता है, तो उन्हें सर्वर से उनकी डिवाइस सूची कुंजी मिलती है।

कंपनी ने कहा कि वह लोगों को अतिरिक्त सुविधा और सुरक्षा भी देगी कि कौन से डिवाइस उनके खाते से जुड़े हैं। सबसे पहले, सभी को अपने फोन से एक क्यूआर कोड स्कैन करके नए साथी डिवाइस को लिंक करना जारी रहेगा। इस प्रक्रिया को अब लिंक करने से पहले बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण की आवश्यकता है जहां लोगों ने संगत उपकरणों पर इस सुविधा को सक्षम किया है।



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *