MP में किसानों के साथ धोख़ाधड़ी : नकली बीच बेचने पर बीज प्रमाणीकरण संस्था के 5 अफसर निलंबित

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


Bhopal. खंडवा में बड़े पैमाने पर नकली बीज के कारोबार की शिकायतें सामने आ रही थीं. कृषि विभाग की जांच में साबित हुआ कि नकली बीज तैयार कर प्रमाणित किया जा रहा है.

Bhopal. खंडवा में बड़े पैमाने पर नकली बीज के कारोबार की शिकायतें सामने आ रही थीं. कृषि विभाग की जांच में साबित हुआ कि नकली बीज तैयार कर प्रमाणित किया जा रहा है.

भोपाल. मध्य प्रदेश (MP) में नकली बीज तैयार कर बेचने के मामले में सरकार ने सख्त कार्रवाई कर 5 अफसरों को निलंबित (Suspend) कर दिया है. सरकार किसानों (Farmers) के साथ की जा रही इस भारी धोख़ाधड़ी के मामले में ज़रा भी रियायत बरतने के मूड में नहीं है. उसने कृषि माफिया के खिलाफ कार्रवाई करते हुए राज्य बीज प्रमाणीकरण संस्था से जुड़े पांच अफसरों को निलंबित किया है. यह सभी अफसर खंडवा में पदस्थ थे.

एमपी में नकली बीज तैयार करने के खुलासे के बाद हड़कंप मचा हुआ है. कृषि मंत्री कमल पटेल ने मंत्रालय में बैठक कर इस बात के साफ औऱ सख्त निर्देश दिए हैं कि खाद बीज के मामले में गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं की जाएगी. जहां भी शिकायत मिले जांच कर कार्रवाई की जाए. अधिकारी किसी भी बड़े स्तर का हो किसी को बख्शा नहीं जाएगा.

इन अफसरों पर एक्शन

खंडवा और रतलाम में बड़े पैमाने पर नकली बीज के कारोबार की शिकायतें सामने आ रही थीं. कृषि विभाग ने इंदौर से टीम भेजकर जांच करवाई. इसमें साबित हुआ कि नकली बीज तैयार कर प्रमाणित किया जा रहा है. इस आधार पर राज्य बीज प्रमाणीकरण संस्था ने सहायक बीज प्रमाणीकरण अधिकारी सुरेश कुमार, अखिलेश चौहान, जयंत कुलहरी, राजा राम बडोले और पीपी सिंह को निलंबित कर दिया है.किसानों को समय पर मिले खाद-बीज

कृषि मंत्री कमल पटेल ने ये भी कहा है कि खरीफ फसलों की बुवाई से पहले किसानों को हर हाल में यूरिया, डीएपी बीज और अन्य कृषि उपकरण उपलब्ध करा दिये जाएं. कृषि विभाग की अहम बैठक में कृषि मंत्री पटेल ने अफसरों को खरीफ की फसल से जुड़े निर्देश दिए हैं. उन्होंने साफ कहा है कि नकली बीज-खाद और दवाओं के कारोबारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए.

कृषि विभाग में हड़कंप

प्रदेश में नकली बीज और खाद के कारोबार में कृषि विभाग के अफसरों की मिलीभगत के बाद अब विभाग में हड़कंप के हालात हैं.









Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *