100 लोगों ने बोला वन विभाग की महिला SDO पर जानलेवा हमला, जानिए कैसे बची जान, क्या हुआ उस रात

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में महिला अधिकारी पर बड़ा हमला बोला गया. गांववालों के हाथों मं हथियार भी थे.

मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में वन विभाग की महिला अधिकारी पर हमला किया गया. 100 से ज्यादा लोगों ने वन विभाग की महिला SDO पर जानलेवा हमला किया. महिला अधिकारी की जान जैसे-तैसे बचाई जा सकी.

मुरैना. मुरैना से अवैध रेत उत्खनन को लेकर बड़ी खबर है. यहां वन विभाग की SDO श्रद्धा पांढरे पर करीब 100 गांववालों ने हमला कर दिया. गांववाले लाठी-डंडों के साथ-साथ बंदूकें और फरसे जैसै हथियार भी साथ में लाए थे. अगर SDO गाड़ी से उतर गई होतीं तो किसी भी तरह की अनहोनी हो सकती थी. क्योंकि, गांववालों ने गाड़ी पर फायरिंग भी की थी. जानकारी के मुताबिक, घटना बुधवार रात की है. इस मामले में पुलिस की भूमिका संदेह के घेरे में है.

गौरतलब है कि  SDO पांढरे बुधवार रात SAF और वन विभाग की टीम के साथ गश्त पर थीं. इस बीच उन्हें रास्ते में अवैध रेत से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली दिखाई दी. टीम ने उसे जब्त कर लिया. SDO श्रद्धा पांढरे ने देवगढ़ टीआई को फोन लगाकर ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त करने की बात कही तो उन्होंने खुद आने से मना कर दिया. टीआई ने पांढरे से कहा कि वे थाने फोन लगाकर किसी स्टाफ को बुला लें.

लोगों के हुजूम ने घेर लिया टीम को

काफी इंतजार के बाद वन विभाग की टीम खुद ही ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर देवगढ़ थाने जाने लगी. टीम जैसे ही पठानपुरा गांव से गुजरने लगी तो उन्हें कुछ अजीब लगा. यहां रास्तों को लकड़ी डालकर जाम किया गया था. जैसे ही गाड़ी रुकी 100 लोगों से ज्यादा के  हुजम ने एसएएफ व वन विभाग के जवानों पर हमला बोल दिया. ये लोग बंदूक, फरसा, डंडा व लाठी लिए हुए थे.9वीं बार हमला

हमलावर एसडीओ पांढ़रे को मारने आगे बढ़े तो उनके साथ गाड़ी में बैठे एसएएफ ने खुद को आगे कर लिया. इस हमले में उसका हाथ फ्रैक्चर हो गया. इस दौरान हमलावर फायरिंग करते हुए रेत से भरी ट्रैक्टर-ट्राली छुड़ा कर ले गए. गौरतलब है कि श्रद्धा पांढ़रे पर पिछले दो माह में यह 9वां हमला था.









Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *