स्कूल शिक्षा बोर्ड: 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम तय करने का फार्मूला तैयार, ऐसे मिलेंगे अंक

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


अमर उजाला नेटवर्क, शिमला
Published by: Krishan Singh
Updated Sat, 05 Jun 2021 11:39 AM IST

सार

 कैबिनेट बैठक से मंजूरी मिलते ही शिक्षा बोर्ड इसकी अधिसूचना जारी कर आगामी तीन सप्ताह के भीतर 10वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम जारी कर देगा। 

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड धर्मशाला।
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश राज्य स्कूल शिक्षा बोर्ड ने 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम तय करने का फार्मूला तैयार कर लिया है। बोर्ड ने इसके लिए सात बिंदु तैयार किए हैं। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि नौवीं कक्षा की परीक्षाओं के अंकों सहित फर्स्ट एंड सेकेंड टर्म, प्री बोर्ड परीक्षाओं, प्रेक्टिकल सहित बीते दिनों हुई अंग्रेजी की परीक्षा के आधार पर अंकों को तय किया जाएगा। इसके अलावा शिक्षकों को भी आंतरिक मूल्यांकन करने के लिए कुछ अंक दिए जाएंगे। 

राज्य सचिवालय में शिक्षा मंत्री गोविंद ठाकुर को इस बाबत प्रस्तुति भी दी गई। कैबिनेट बैठक से मंजूरी मिलते ही शिक्षा बोर्ड इसकी अधिसूचना जारी कर आगामी तीन सप्ताह के भीतर परीक्षा परिणाम जारी कर देगा। 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को प्रमोट करने के लिए सीबीएसई के फार्मूले का इंतजार किया जाएगा। 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों के अंक निर्धारित करने के फार्मूले को लेकर शुक्रवार को स्कूल शिक्षा बोर्ड ने शिक्षा मंत्री को प्रस्तुति दी। फार्मूले को अंतिम मंजूरी शनिवार को होने वाली कैबिनेट बैठक में दी जाएगी। परीक्षा परिणाम तैयार करने के  लिए जल्द ही कमेटियां बनाई जाएंगी। बोर्ड से इसकी अधिसूचना जारी होते ही दो से तीन सप्ताह में कार्य पूरा करने का प्रयास रहेगा। 

प्रिंसिपलों की अध्यक्षता में गठित करेंगे कमेटी
शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 के बढ़ते मामलों और विद्यार्थियों व जनसाधारण की स्वास्थ्य सुरक्षा के दृष्टिगत प्रदेश सरकार ने बोर्ड द्वारा संचालित 10वीं की परीक्षा को रद्द करने का निर्णय लिया है। अंक निर्धारण के लिए व्यापक मूल्यांकन को ध्यान में रखा गया है। संबंधित विद्यालयों के प्रधानाचार्यों की अध्यक्षता में परिणाम सारणीकरण समिति का गठन किया जाएगा। जो इन मापदंडों के अनुसार परीक्षा परिणाम तैयार करेगी। बोर्ड द्वारा उपलब्ध करवाए ऑनलाइन लिंक के माध्यम से अंक निर्धारित किए जाएंगे। 

12वीं कक्षा के लिए सीबीएसई के फार्मूले का इंतजार
शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने बताया कि 12वीं कक्षा के अंक निर्धारित करने को अभी सीबीएसई का फार्मूला नहीं आया है। मामला सुप्रीम कोर्ट में भी विचाराधीन है। सीबीएसई का फार्मूला आते ही हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड अपना फार्मूला तैयार करेगा। उन्होंने कहा कि बच्चों के स्वास्थ्य और सुरक्षा से समझौता नहीं कर सकते। 12वीं कक्षा की परीक्षाओं को स्थगित करने का कैबिनेट बैठक में फैसला होगा।

विस्तार

हिमाचल प्रदेश राज्य स्कूल शिक्षा बोर्ड ने 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम तय करने का फार्मूला तैयार कर लिया है। बोर्ड ने इसके लिए सात बिंदु तैयार किए हैं। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि नौवीं कक्षा की परीक्षाओं के अंकों सहित फर्स्ट एंड सेकेंड टर्म, प्री बोर्ड परीक्षाओं, प्रेक्टिकल सहित बीते दिनों हुई अंग्रेजी की परीक्षा के आधार पर अंकों को तय किया जाएगा। इसके अलावा शिक्षकों को भी आंतरिक मूल्यांकन करने के लिए कुछ अंक दिए जाएंगे। 

राज्य सचिवालय में शिक्षा मंत्री गोविंद ठाकुर को इस बाबत प्रस्तुति भी दी गई। कैबिनेट बैठक से मंजूरी मिलते ही शिक्षा बोर्ड इसकी अधिसूचना जारी कर आगामी तीन सप्ताह के भीतर परीक्षा परिणाम जारी कर देगा। 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को प्रमोट करने के लिए सीबीएसई के फार्मूले का इंतजार किया जाएगा। 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों के अंक निर्धारित करने के फार्मूले को लेकर शुक्रवार को स्कूल शिक्षा बोर्ड ने शिक्षा मंत्री को प्रस्तुति दी। फार्मूले को अंतिम मंजूरी शनिवार को होने वाली कैबिनेट बैठक में दी जाएगी। परीक्षा परिणाम तैयार करने के  लिए जल्द ही कमेटियां बनाई जाएंगी। बोर्ड से इसकी अधिसूचना जारी होते ही दो से तीन सप्ताह में कार्य पूरा करने का प्रयास रहेगा। 

प्रिंसिपलों की अध्यक्षता में गठित करेंगे कमेटी

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 के बढ़ते मामलों और विद्यार्थियों व जनसाधारण की स्वास्थ्य सुरक्षा के दृष्टिगत प्रदेश सरकार ने बोर्ड द्वारा संचालित 10वीं की परीक्षा को रद्द करने का निर्णय लिया है। अंक निर्धारण के लिए व्यापक मूल्यांकन को ध्यान में रखा गया है। संबंधित विद्यालयों के प्रधानाचार्यों की अध्यक्षता में परिणाम सारणीकरण समिति का गठन किया जाएगा। जो इन मापदंडों के अनुसार परीक्षा परिणाम तैयार करेगी। बोर्ड द्वारा उपलब्ध करवाए ऑनलाइन लिंक के माध्यम से अंक निर्धारित किए जाएंगे। 

12वीं कक्षा के लिए सीबीएसई के फार्मूले का इंतजार

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने बताया कि 12वीं कक्षा के अंक निर्धारित करने को अभी सीबीएसई का फार्मूला नहीं आया है। मामला सुप्रीम कोर्ट में भी विचाराधीन है। सीबीएसई का फार्मूला आते ही हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड अपना फार्मूला तैयार करेगा। उन्होंने कहा कि बच्चों के स्वास्थ्य और सुरक्षा से समझौता नहीं कर सकते। 12वीं कक्षा की परीक्षाओं को स्थगित करने का कैबिनेट बैठक में फैसला होगा।



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *