व्हीटग्रास जूस से कंट्रोल करें डायबिटीज

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


Wheatgrass Juice Benefits: स्वास्थ्य के लिए प्रकृति में ऐसी कई फायदेमंद चीजें मौजूद हैं जिनके सेवन से आप खुद को फिट और हेल्दी रख सकते हैं. इन्हीं में से एक है व्हीटग्रास. इसे गेहूं की ताजी पत्तियों से तैयार किया जाता है. व्हीटग्रास में विटामिन, प्रोटीन, मिनरल, फाइबर और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं. इसमें क्लोरोफिल, फ्लेवोनोइड्स, विटामिन-सी और विटामिन-ई भी होता है. रोजाना व्हीटग्रास जूस पीने से शरीर में सभी जरूरी पोषक तत्वों की कमी पूरी हो जाती है. बढ़ते वजन और डाइटबिटीज को कंट्रोल करने के लिए भी व्हीट ग्रास बहुत फायदेमंद है. व्हीटग्रास का इस्तेमाल करने से कैंसर, त्वचा संबंधी रोग, किडनी और पेट से संबंधित बीमारियां भी ठीक हो जाती है. इंस्टेंट एनर्जी के लिए भी आप व्हीटग्रास जूस पी सकते हैं. डेंगू में कम होने वाले प्लेटलेट्स में भी सुधार लाता है व्हीटग्रास. जानते हैं व्हीटग्रास के फायदे.
 
1- ब्लड शुगर कंट्रोल करता है- व्हीटग्रास जूस पीने से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रहता है. डायबिटीज के मरीज अगर नियमित रुप से व्हीटग्रास का सेवन करते हैं तो उन्हें कई तरह के फायदे मिलते हैं. ब्लड शुगर बढ़ने पर शरीर में कई तरह की गंभीर समस्याएं होने लगती हैं. 

2- कोलेस्ट्रॉल घटाता है- व्हीटग्रास जूस पीने से कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी मदद मिलती है. इससे हार्ट की बीमारियों का खतरा कम हो जाता है. शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने से दिल की बीमारियां और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है.

3- डेंगू में प्लेटलेट्स बढ़ाता है- व्हीटग्रास से मौसमी बीमारियां होने का खरता कम होता है. बारिश के मौसम में मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियों में इससे फायदा मिलता है. डेंगू में प्लेटलेट्स बढ़ाने में भी व्हीटग्रास मदद करता है.

4- मोटापा कम करता है- व्हीटग्रास जूस पीने से मोटापे की समस्या कम हो जाती है. व्हीटग्रास में भरपूर फाइबर और कैलोरी बहुत कम होती हैं. इसके सेवन से पेट लंबे समय तक भरा हुआ रहता है. ऐसी स्थिति में आप ज्यादा खाने से बचते हैं. नियिमित रुप से व्हीटग्रास जूस पीने से मोटापे की समस्या कम हो जाती है.

5-बॉडी डिटॉक्स करता है- व्हीटग्रास में ऐसे पोषक तत्व होते हैं जिससे बॉडी टॉक्सिन बाहर निकालते हैं. इसमें पाए जाने वाले क्लोरोफिल से शरीर को डिटॉक्स करने में मदद मिलती है. इसके अलावा हेल्दी लिवर फंक्शन, पाचन में सुधार करता है. बॉडी डिटॉक्स होने के बाद एनर्जी में भी सुधार आता है.

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की एबीपी न्यूज़ पुष्टि नहीं करता है. इनको केवल सुझाव के रूप में लें. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

ये भी पढ़ें: क्या है टाइप 2 डायबिटीज, कितना होना चाहिए ब्लड शुगर लेवल, ये है पूरा चार्ट

 

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *