लखीमपुर खीरी: एएसपी ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए मांगा पांच दिन का समय, आश्वासन पर माने धरने पर बैठे ब्राह्मण महासभा के पदाधिकारी

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


आरोपियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर धरना देते ब्राह्मण महासभा के पदाधिकारी
– फोटो : amar ujala

ख़बर सुनें

तिकुनिया कांड में मारे गए भाजपा कार्यकर्ता, पत्रकार एवं चालक के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा के लोग रविवार शाम से आंबेडकर पार्क में धरने पर बैठ गए। सोमवार को एएसपी से पांच दिन में गिरफ्तारी का आश्वासन मिलने पर धरना खत्म हो गया। महासभा के लोगों ने वादा पूरा न होने पर बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी दी है।

भाजपा कार्यकर्ता शुभम मिश्रा एवं मंत्री पुत्र के ड्राइवर हरिओम मिश्रा के परिजन से मिलने के लिए कानपुर से ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित राहुल त्रिपाठी रविवार को इनके घर पहुंचे। उन्होंने परिजन से मिलकर न्याय दिलाने का आश्वासन दिया।

शुभम के पिता की तहरीर पर मुकदमा न लिखे जाने पर नाराजगी जताते हुए महासभा के पदाधिकारी आंबेडकर पार्क में रात में ही अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। सूचना मिलते ही एसडीएम सदर डॉ. अरुण कुमार सिंह ने मौके पर पहुंचकर धरना खत्म कराने का प्रयास किया, लेकिन महासभा के पदाधिकारी नहीं माने। वहीं सोमवार की दोपहर एएसपी अरुण कुमार सिंह, सीओ गोला संजय नाथ तिवारी ने धरना स्थल पहुंचकर गिरफ्तारी के लिए पांच दिन का समय मांगा। इस पर महासभा के पदाधिकारियों ने तय दिनों में अभियुक्तों के न पकड़े जाने पर बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी देते हुए धरना खत्म कर दिया।

उधर, विश्व हिंदू परिषद के प्रांत प्रचार प्रमुख आचार्य संजय मिश्रा ने कहा कि किसान पुत्र शुभम मिश्र, हरिओम मिश्र, श्यामसुंदर एवं पत्रकार रमन कश्यप को कुछ बवालियों ने तीन अक्तूबर को पीटकर मार डाला था। तहरीर देने के बाद भी पुलिस अभियुक्तों की गिरफ्तार नहीं कर रही। उन्होंने डीएम की भूमिका पर सवाल उठाते हुए कहा कि वह आज तक पीड़ित परिवार से मिलने नहीं गए।

आचार्य संजय मिश्रा ने कहा कि मुख्य आरोपी तेजिंदर सिंह विर्क को गिरफ्तार कर राकेश टिकैत को 120 का मुल्जिम बनाया जाए। इस दौरान राघवराम तिवारी, विद्यासागर त्रिपाठी, अंकुर शुक्ल, महादेव बाबा अयोध्या वाले, राम पांडे, किशन बाजपेई, विनय , ब्रम्हा शुक्ल, जीएन तिवारी, नंद कुमार मिश्र, श्यामकिशोर तिवारी मामा, देव पांडे, संत सभा के आशुतोषांवर, आशुतोष शुक्ला, नितिन दीक्षित, महादेव, अंकुर शुक्ला, राहुल तिवारी, मंयक अवस्थी, सिद्घार्थ शुक्ला आदि मौजूद रहे।

वायरल वीडियो में पीटकर हत्या करने वालों पर कार्रवाई की मांग
अखिल भारतीय सवर्ण मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हरेराम चौबे ने सीएम योगी को ज्ञापन भेजकर तिकुनिया कांड में भाजपा कार्यकर्ता, पत्रकार एवं चालक की हत्या करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि मृतकों के साथ सहानुभूति एवं मुआवजा में भेदभाव करना उचित नहीं है।

गृह राज्यमंत्री और उनके पुत्र को इस घटना में गलत फंसाया जा रहा है। हरेराम चौबे ने कहा कि हत्या, आगजनी करने वालों एवं युवकों की पीटकर हत्या करने वालों को चिह्नित कर कार्रवाई करने की मांग की। वाजिद, शिव गोपाल अवस्थी, युसुफ आदि मौजूद रहे।

तिकुनिया कांड में मारे गए भाजपा कार्यकर्ता, पत्रकार एवं चालक के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा के लोग रविवार शाम से आंबेडकर पार्क में धरने पर बैठ गए। सोमवार को एएसपी से पांच दिन में गिरफ्तारी का आश्वासन मिलने पर धरना खत्म हो गया। महासभा के लोगों ने वादा पूरा न होने पर बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी दी है।

भाजपा कार्यकर्ता शुभम मिश्रा एवं मंत्री पुत्र के ड्राइवर हरिओम मिश्रा के परिजन से मिलने के लिए कानपुर से ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित राहुल त्रिपाठी रविवार को इनके घर पहुंचे। उन्होंने परिजन से मिलकर न्याय दिलाने का आश्वासन दिया।

शुभम के पिता की तहरीर पर मुकदमा न लिखे जाने पर नाराजगी जताते हुए महासभा के पदाधिकारी आंबेडकर पार्क में रात में ही अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। सूचना मिलते ही एसडीएम सदर डॉ. अरुण कुमार सिंह ने मौके पर पहुंचकर धरना खत्म कराने का प्रयास किया, लेकिन महासभा के पदाधिकारी नहीं माने। वहीं सोमवार की दोपहर एएसपी अरुण कुमार सिंह, सीओ गोला संजय नाथ तिवारी ने धरना स्थल पहुंचकर गिरफ्तारी के लिए पांच दिन का समय मांगा। इस पर महासभा के पदाधिकारियों ने तय दिनों में अभियुक्तों के न पकड़े जाने पर बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी देते हुए धरना खत्म कर दिया।

उधर, विश्व हिंदू परिषद के प्रांत प्रचार प्रमुख आचार्य संजय मिश्रा ने कहा कि किसान पुत्र शुभम मिश्र, हरिओम मिश्र, श्यामसुंदर एवं पत्रकार रमन कश्यप को कुछ बवालियों ने तीन अक्तूबर को पीटकर मार डाला था। तहरीर देने के बाद भी पुलिस अभियुक्तों की गिरफ्तार नहीं कर रही। उन्होंने डीएम की भूमिका पर सवाल उठाते हुए कहा कि वह आज तक पीड़ित परिवार से मिलने नहीं गए।

आचार्य संजय मिश्रा ने कहा कि मुख्य आरोपी तेजिंदर सिंह विर्क को गिरफ्तार कर राकेश टिकैत को 120 का मुल्जिम बनाया जाए। इस दौरान राघवराम तिवारी, विद्यासागर त्रिपाठी, अंकुर शुक्ल, महादेव बाबा अयोध्या वाले, राम पांडे, किशन बाजपेई, विनय , ब्रम्हा शुक्ल, जीएन तिवारी, नंद कुमार मिश्र, श्यामकिशोर तिवारी मामा, देव पांडे, संत सभा के आशुतोषांवर, आशुतोष शुक्ला, नितिन दीक्षित, महादेव, अंकुर शुक्ला, राहुल तिवारी, मंयक अवस्थी, सिद्घार्थ शुक्ला आदि मौजूद रहे।

वायरल वीडियो में पीटकर हत्या करने वालों पर कार्रवाई की मांग

अखिल भारतीय सवर्ण मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हरेराम चौबे ने सीएम योगी को ज्ञापन भेजकर तिकुनिया कांड में भाजपा कार्यकर्ता, पत्रकार एवं चालक की हत्या करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि मृतकों के साथ सहानुभूति एवं मुआवजा में भेदभाव करना उचित नहीं है।

गृह राज्यमंत्री और उनके पुत्र को इस घटना में गलत फंसाया जा रहा है। हरेराम चौबे ने कहा कि हत्या, आगजनी करने वालों एवं युवकों की पीटकर हत्या करने वालों को चिह्नित कर कार्रवाई करने की मांग की। वाजिद, शिव गोपाल अवस्थी, युसुफ आदि मौजूद रहे।



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *