मसूरी : किंक्रेग में बन रही निर्माणाधीन पार्किंग का लिंटर गिरा, दस घंटे रोड बंद रही

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


न्यूज़ डेस्क, अमर उजाला, मसूरी
Published by: Nirmala Suyal Nirmala Suyal
Updated Sat, 01 May 2021 11:56 AM IST

सार

पार्किंग का लिंटर गिर जाने के कारण मसूरी देहरादून मार्ग करीब दस घंटे बंद रहा। हादसे में कोई हताहहत नहीं हुआ।

पार्किंग का लिंटर अचानक गिर गया
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

मसूरी में जाम से निजात दिलाने के लिए किंक्रेग में लोक निर्माण विभाग के द्वारा करोड़ों की लागत से बनाई जा रही पार्किंग का लिंटर अचानक गिर गया। पार्किंग का लिंटर गिर जाने के कारण मसूरी देहरादून मार्ग करीब दस घंटे बंद रहा। हादसे में कोई हताहहत नहीं हुआ।

छह साल बाद भी पार्किंग का निर्माण पूरा नही हो पाया

मसूरी में जाम से निजात दिलाने के लिए लगभग 32 करोड़ की लागत से बन रही पार्किंग का कार्य पहले ही कछुआ गति से चल रहा है। जबकि यह पार्किग एक साल में बननी थी, लेकिन छह साल बाद भी पार्किंग का निर्माण पूरा नही हो पाया।

शनिवार की सुबह करीब साढे तीन बजे भरभरा कर गिर गया लिंटर

वहीं कई बार प्रशासन व विभाग के अधिकारियों ने कंपनी को फटकार भी लगाई। इस वर्ष सीजन शुरू होने से पहले पार्किग का कार्य पूरा होना था, लेकिन शुक्रवार की शाम छह बजे पार्किंग को जोड़ने के लिए एप्रोच बनाए जाने के लिए जो लिंटर डाला गया, वह शनिवार की सुबह करीब साढे तीन बजे भरभरा कर गिर गया।

गनीमत थी कि रात होने के कारण मार्ग पर वाहन नहीं थे अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। नगर पालिका अध्यक्ष अनुज गुप्ता ने इस मामले को गंभीरता से लिया व कहा कि निर्माणाधीन पार्किंग का लिंटर गिरना गुणवत्ताहीन कार्य का परिचायक है। ऐसे में कार्यदायी संस्था पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

खास बातें
– पार्किंग निर्माण कार्य जून 2016 मे शुरू हुआ था
– 31 करोड़ 95 लाख 38 हजार लागत
– 212 गाड़ियों की पार्किंग

विस्तार

मसूरी में जाम से निजात दिलाने के लिए किंक्रेग में लोक निर्माण विभाग के द्वारा करोड़ों की लागत से बनाई जा रही पार्किंग का लिंटर अचानक गिर गया। पार्किंग का लिंटर गिर जाने के कारण मसूरी देहरादून मार्ग करीब दस घंटे बंद रहा। हादसे में कोई हताहहत नहीं हुआ।

छह साल बाद भी पार्किंग का निर्माण पूरा नही हो पाया

मसूरी में जाम से निजात दिलाने के लिए लगभग 32 करोड़ की लागत से बन रही पार्किंग का कार्य पहले ही कछुआ गति से चल रहा है। जबकि यह पार्किग एक साल में बननी थी, लेकिन छह साल बाद भी पार्किंग का निर्माण पूरा नही हो पाया।

शनिवार की सुबह करीब साढे तीन बजे भरभरा कर गिर गया लिंटर

वहीं कई बार प्रशासन व विभाग के अधिकारियों ने कंपनी को फटकार भी लगाई। इस वर्ष सीजन शुरू होने से पहले पार्किग का कार्य पूरा होना था, लेकिन शुक्रवार की शाम छह बजे पार्किंग को जोड़ने के लिए एप्रोच बनाए जाने के लिए जो लिंटर डाला गया, वह शनिवार की सुबह करीब साढे तीन बजे भरभरा कर गिर गया।

गनीमत थी कि रात होने के कारण मार्ग पर वाहन नहीं थे अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। नगर पालिका अध्यक्ष अनुज गुप्ता ने इस मामले को गंभीरता से लिया व कहा कि निर्माणाधीन पार्किंग का लिंटर गिरना गुणवत्ताहीन कार्य का परिचायक है। ऐसे में कार्यदायी संस्था पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

खास बातें

– पार्किंग निर्माण कार्य जून 2016 मे शुरू हुआ था

– 31 करोड़ 95 लाख 38 हजार लागत

– 212 गाड़ियों की पार्किंग





Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *