‘भारत में बढ़ती मांग के कारण बाधित आपूर्ति को पूरा करने के लिए टीके के दो करोड़ खुराक की जरुरत’

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


न्यूयॉर्क: विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सोमवार को कहा कि दुनिया भर में कोविड-19 टीके की समान आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए बने वैश्विक गठबंधन कोवैक्स को भारत में टीके की बढ़ती मांग के कारण बाधित हुई टीके की आपूर्ति को पूरा करने के लिए तत्काल टीके की दो करोड़ खुराक की जरुरत है.

भारत है सबसे बड़ा आपूर्तिकर्ता

गौरतलब है कि भारत एस्ट्राजेनेका टीके का दुनिया भर में सबसे बड़ा आपूर्तिकर्ता है. दुनिया का सबसे बड़ा टीका निर्माता पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ऑक्सफोड विश्वविद्यालय और ब्रिटिश-स्वीडिश कंपनी एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित टीके कोविशील्ड का उत्पादक है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘भारत में टीके की बढ़ती मांग के कारण टीके की आपूर्ति में आए अवरोध को दूर करने के लिए कोवैक्स को तत्काल दो करोड़ खुराक की जरुरत है. भारत एस्ट्राजेनेका के टीके का कोवैक्स में मुख्य आपूर्तिकर्ता है.’’

भारत में वैक्सीनेशन का बड़ा अभियान

गौरतलब है कि, भारत में कोरोना संक्रमण हालात बेहद गंभीर बने हुये हैं. वहीं, देश में कोरोना टीकाकरण का अभियान तेजी से चलाया जा रहा है. आबादी के लिहाज से भारत में टीके की ज्यादा खुराक की जरूरत है. इसके अलावा अब भारत में एक मई 18 साल से ऊपर वालों का भी टीकाकरण शुरू किया गया है. हालांकि, कई राज्यों में वैक्सीन न होने के चलते यह अभियान अभी शुरू नहीं हो सका है. वहीं, भारत सरकार भी टीके की आयात की बात कह चुकी है. 

ये भी पढ़ें.

अमेरिकी सांसद ने बढ़ाए भारत की ओऱ मदद के हाथ, बाइडन प्रशासन से किया वैक्सीन की खेप जारी करने का आग्रह



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *