नहीं चाहिए फर्जी सहानुभूति, रातों रात जिले भर में लग गईं होर्डिंग्स

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


ख़बर सुनें

होर्डिंग पर है सतपाल सिंह मीत अध्यक्ष दशमेश सेवा सोसायटी का नाम
यह पोस्टर और होर्डिंग्स फर्जी नामों से भाजपा ने लगाए हैं : जफर अली नकवी

लखीमपुर खीरी। तिकुनिया हिंसा के दोषियों पर कार्रवाई और गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी की बर्खास्तगी की मांग को लेकर किसानों के समर्थन में उतरीं प्रियंका गांधी और कांग्रेस के विरोध में रातों रात जिले भर में होर्डिंग्स लगाई गई हैं। इन होर्डिंग्स में लिखा है ‘नहीं चाहिए फर्जी सहानुभूति- खून से भरा है दामन तुम्हारा, तुम क्या दोगे साथ हमारा, नहीं चाहिए साथ तुम्हारा’ इस होर्डिंग पर सतपाल सिंह मीत अध्यक्ष दशमेश सेवा सोसायटी का नाम है।
यह होर्डिंग्स रातों रात लगाए गए हैं। यह होर्डिंग्स कहां से आईं और किसने लगाई। यह कोई नहीं बता पा रहा। यह होर्डिंग्स उन रास्तों पर ज्यादा लगाई गई हैं जिन रास्तों से प्रियंका गांधी को गुजरना था। बावजूद इसके प्रियंका गांधी मृत किसानों की आत्मा की शांति के लिए तिकुनिया में आयोजित अंतिम अरदास के कार्यक्रम में पहुंचीं और वहां काफी देर तक रुकीं।
कई सिख नेताओं ने बताया कि यह होर्डिंग किसकी ओर से लगाए गए हैं उन्हें नहीं पता। कांग्रेस नेता एवं पूर्व सांसद जफर अली नकवी का कहना है कि यह पोस्टर और होर्डिंग्स फर्जी नामों से भाजपा की ओर से ही लगाए गए हैं। उनका कहना है कि भाजपा कांग्रेस के आक्रामक रुख से घबराई हुई है। इस कारण इस तरह के घटिया हथकंडे अपना रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों का समर्थन और अन्याय का विरोध जारी रखेगी।

होर्डिंग पर है सतपाल सिंह मीत अध्यक्ष दशमेश सेवा सोसायटी का नाम

यह पोस्टर और होर्डिंग्स फर्जी नामों से भाजपा ने लगाए हैं : जफर अली नकवी

लखीमपुर खीरी। तिकुनिया हिंसा के दोषियों पर कार्रवाई और गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी की बर्खास्तगी की मांग को लेकर किसानों के समर्थन में उतरीं प्रियंका गांधी और कांग्रेस के विरोध में रातों रात जिले भर में होर्डिंग्स लगाई गई हैं। इन होर्डिंग्स में लिखा है ‘नहीं चाहिए फर्जी सहानुभूति- खून से भरा है दामन तुम्हारा, तुम क्या दोगे साथ हमारा, नहीं चाहिए साथ तुम्हारा’ इस होर्डिंग पर सतपाल सिंह मीत अध्यक्ष दशमेश सेवा सोसायटी का नाम है।

यह होर्डिंग्स रातों रात लगाए गए हैं। यह होर्डिंग्स कहां से आईं और किसने लगाई। यह कोई नहीं बता पा रहा। यह होर्डिंग्स उन रास्तों पर ज्यादा लगाई गई हैं जिन रास्तों से प्रियंका गांधी को गुजरना था। बावजूद इसके प्रियंका गांधी मृत किसानों की आत्मा की शांति के लिए तिकुनिया में आयोजित अंतिम अरदास के कार्यक्रम में पहुंचीं और वहां काफी देर तक रुकीं।

कई सिख नेताओं ने बताया कि यह होर्डिंग किसकी ओर से लगाए गए हैं उन्हें नहीं पता। कांग्रेस नेता एवं पूर्व सांसद जफर अली नकवी का कहना है कि यह पोस्टर और होर्डिंग्स फर्जी नामों से भाजपा की ओर से ही लगाए गए हैं। उनका कहना है कि भाजपा कांग्रेस के आक्रामक रुख से घबराई हुई है। इस कारण इस तरह के घटिया हथकंडे अपना रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों का समर्थन और अन्याय का विरोध जारी रखेगी।



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *