देहरादून: संदिग्धों की तलाश में बिंदाल बस्ती बनी छावनी, पुलिस और पीएसी ने चलाया अभियान 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून
Published by: Nirmala Suyal Nirmala Suyal
Updated Wed, 13 Oct 2021 12:20 PM IST

सार

एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने शहर और आसपास के इलाकों में सघन चेकिंग अभियान चलाने के निर्देश दिए थे। इसी क्रम में मंगलवार को सुबह करीब 4:30 बजे कोतवाली व कैंट थाना पुलिस और पीएसी के सैकड़ों जवानों ने बिंदाल बस्ती को चारों ओर से घेर लिया।

ख़बर सुनें

संदिग्धों की तलाश में पुलिस ने मंगलवार तड़के बिंदाल बस्ती में चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान पूरी बस्ती को छावनी में तब्दील कर दिया गया। यहां लोगों के घरों में चेकिंग की गई। इस दौरान 27 ऐसे लोग मिले, जिन्होंने अपने किराएदारों का सत्यापन नहीं कराया था। 

घर-घर जाकर पुलिस ने संदिग्धों की तलाश की
एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने शहर और आसपास के इलाकों में सघन चेकिंग अभियान चलाने के निर्देश दिए थे। इसी क्रम में मंगलवार को सुबह करीब 4:30 बजे कोतवाली व कैंट थाना पुलिस और पीएसी के सैकड़ों जवानों ने बिंदाल बस्ती को चारों ओर से घेर लिया। इस दौरान न किसी को यहां आने की अनुमति दी गई और न ही कोई यहां से बाहर गया। घर-घर जाकर पुलिस ने संदिग्धों की तलाश की। 

अक्सर शराब और नशा तस्करी की शिकायतें
पुलिस को अंदेशा था कि इस बस्ती में कुछ संदिग्ध लोग बाहर से आकर रुकते हैं। यही वह बस्ती है जहां पर अक्सर शराब और नशा तस्करी की शिकायतें आती हैं। हालांकि, मंगलवार सुबह की तलाश में पुलिस के हाथ न तो संदिग्ध आया और न ही संदिग्ध वस्तु। इस दौरान 27 लोग ऐसे मिले जिन्होंने अपने किराएदारों का सत्यापन नहीं कराया था। पुलिस ने इन सभी का लगभग 2.70 लाख रुपये के (प्रत्येक से 10 हजार) चालान किया। सत्यापन के लिए कुल टीमें बनाई गई थीं। इस दौरान कुल 180 मकान चेक किए गए। 

लगातार चलेगा चेकिंग अभियान : एसएसपी 
एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने बताया कि यदि इस तरह से चेकिंग की जाए तो नशा तस्करी पर प्रभावी अंकुश लगाया जा सकता है। यह चेकिंग शहर की अन्य बस्तियों में भी चलाए जाएंगे। इसके अलावा शहर के इंडस्ट्रियल एरिया में भी सत्यापन अभियान चलाए जाएंगे। बीते वर्षों में इंडस्ट्रियल क्षेत्रों में विदेशियों के पकड़े जाने की जानकारी मिली है। लिहाजा, यहां पर सघन अभियान चलाया जाएगा। 

विस्तार

संदिग्धों की तलाश में पुलिस ने मंगलवार तड़के बिंदाल बस्ती में चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान पूरी बस्ती को छावनी में तब्दील कर दिया गया। यहां लोगों के घरों में चेकिंग की गई। इस दौरान 27 ऐसे लोग मिले, जिन्होंने अपने किराएदारों का सत्यापन नहीं कराया था। 

घर-घर जाकर पुलिस ने संदिग्धों की तलाश की

एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने शहर और आसपास के इलाकों में सघन चेकिंग अभियान चलाने के निर्देश दिए थे। इसी क्रम में मंगलवार को सुबह करीब 4:30 बजे कोतवाली व कैंट थाना पुलिस और पीएसी के सैकड़ों जवानों ने बिंदाल बस्ती को चारों ओर से घेर लिया। इस दौरान न किसी को यहां आने की अनुमति दी गई और न ही कोई यहां से बाहर गया। घर-घर जाकर पुलिस ने संदिग्धों की तलाश की। 

अक्सर शराब और नशा तस्करी की शिकायतें

पुलिस को अंदेशा था कि इस बस्ती में कुछ संदिग्ध लोग बाहर से आकर रुकते हैं। यही वह बस्ती है जहां पर अक्सर शराब और नशा तस्करी की शिकायतें आती हैं। हालांकि, मंगलवार सुबह की तलाश में पुलिस के हाथ न तो संदिग्ध आया और न ही संदिग्ध वस्तु। इस दौरान 27 लोग ऐसे मिले जिन्होंने अपने किराएदारों का सत्यापन नहीं कराया था। पुलिस ने इन सभी का लगभग 2.70 लाख रुपये के (प्रत्येक से 10 हजार) चालान किया। सत्यापन के लिए कुल टीमें बनाई गई थीं। इस दौरान कुल 180 मकान चेक किए गए। 

लगातार चलेगा चेकिंग अभियान : एसएसपी 

एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने बताया कि यदि इस तरह से चेकिंग की जाए तो नशा तस्करी पर प्रभावी अंकुश लगाया जा सकता है। यह चेकिंग शहर की अन्य बस्तियों में भी चलाए जाएंगे। इसके अलावा शहर के इंडस्ट्रियल एरिया में भी सत्यापन अभियान चलाए जाएंगे। बीते वर्षों में इंडस्ट्रियल क्षेत्रों में विदेशियों के पकड़े जाने की जानकारी मिली है। लिहाजा, यहां पर सघन अभियान चलाया जाएगा। 



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *