दागदार हुई खाकी! मंडला पुलिस पर युवक के शव के बदले परिजनों से पैसे लेने का लगा आरोप


बीते जून महीने में सड़क दुर्घटना में मृत युवक की तस्वीर (फाइल फोटो)

सड़क दुर्घटना (Road Accident) में मारे गए युवक के परिजनों ने आरोप लगाया है कि बिछिया पुलिस ने पोस्टमॉर्टम, एक्सीडेंट के दौरान गाड़ी में फंसे शव को निकालने के लिए जेसीबी (JCB) के इस्तेमाल का खर्च बताते हुए उनसे लगभग पच्चीस हजार रुपए लिए

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    November 25, 2020, 9:48 PM IST

मंडला. मध्य प्रदेश के मंडला (Mandla) जिले में मानवता को शर्मसार करने का मामला सामने आया है. बिछिया पुलिस (Bichia Police) पर एक दुर्घटना में मृत युवक का शव उसके परिजनों को सौंपने के बदले उनसे लगभग 25 हजार रूपए की वसूली (Extortion) के आरोप लगे हैं. परिजनों ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने पोस्टमॉर्टम, एक्सीडेंट के दौरान गाड़ी में फंसे शव को निकालने के लिए जेसीबी (JCB) के इस्तेमाल का खर्च बताते हुए उनसे यह पैसे लिए.

यह घटना 30 जुलाई, 2020 की बताई जा रही है. शाजापुर जिले के देवनारायण विश्वकर्मा का हनुमान नाला के पास नेशनल हाईवे 30 पर सुबह- सुबह दो वाहनों के बीच जबरदस्त टक्कर हो गई थी. इस दुर्घटना में चार लोगों की मौत हो गई थी. इसकी सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची बिछिया पुलिस ने वाहनों को किनारे करवाया और शवों को अस्पताल पहुचांया था. आरोप है कि पुलिस ने इसका पूरा खर्च मृतक के परिजनों से वसूला गया था. यही नहीं अब चार महीने बीतने के बाद भी पुलिस द्वारा पैसों के लिए मृतक के परिजनों को परेशान किया जा रहा है.

इससे परेशान और तंग होकर मृतक के परिजन बाबूलाल विश्वकर्मा ने 24 नवंबर को सीएम हेल्पलाइन में शिकायत करते हुए कहा कि पुलिसकर्मियों और अधिकारियों का व्यवहार ठीक नहीं है. उन्होंने अपनी शिकायत में पुलिस द्वारा मारपीट करने और अनावश्यक रूप से परेशान किए जाने की बात कही. पीड़ित के परिजन ने आरोपी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने की मांग की है.





Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *