जालसाजी: 10वीं पास युवक ने खुद को बताया सेना का अफसर, लोगों ने निकाला जुलूस, अब पुलिस कर रही तलाश  

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हरदा
Published by: Amit Mandal
Updated Mon, 11 Oct 2021 07:44 PM IST

सार

युवक ने पिता को बताया था कि वह सेना में भर्ती हो गया है। पिता को इसलिए यकीन हो गया क्योंकि युवक बीच-बीच में आठ से दस दिन के लिए घर आता था। 

ख़बर सुनें

स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद हर छात्र का सपना होता है कि उसे अच्छी नौकरी मिले, रूतबा मिले। कई युवक सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करना चाहते हैं और इसके लिए जी तोड़ मेहनत करते हैं। कठिन परीक्षा से गुजरते हैं और तब कहीं जाकर उनका चयन हो पाता है। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो जालसाजी कर खुद को सैन्यकर्मी बताते हुए लोगों को गुमराह करते हैं।

ऐसा ही एक मामला मध्यप्रदेश के हरदा में सामने आया है जहां एक युवक ने खुद को वायुसेना कर्मी बताया। उसकी बात का यकीन कर लोगों ने उसका स्वागत कर जुलूस भी निकाला। इसमें कई नेता भी शामिल हुए। जब एयरफोर्स को इस बात की जानकारी मिली तो युवक के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस को पत्र लिखा। पुलिस ने युवक के खिलाफ केस दर्ज किया है। युवक फरार है। जांच में पता चला कि युवक के पिता मजदूरी करते हैं। युवक ने पिता को बताया था कि वह सेना में भर्ती हो गया है। पिता को इसलिए यकीन हो गया क्योंकि युवक बीच-बीच में आठ से दस दिन के लिए घर आता था। 

सेना की वर्दी में निकाला जुलूस
युवक हरदा के पलियाखाल का निवासी है। उसने परिजनों व कॉलोनी वालों को बताया था कि उसका चयन वायुसेना में हो गया है। सेना की वर्दी में परिजनों और रिश्तेदारों के साथ उसने खुशियां मनाई। सम्मान में उसका जुलूस भी निकाला गया। सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल हुआ और वायुसेना के कार्यालय तक पहुंचा। वहां से कहा गया कि इस तरह की कोई नियुक्ति एयरफोर्स द्वारा नहीं की गई है। इस संबंध में हरदा पुलिस को पत्र लिखा गया। इसके बाद पुलिस ने युवक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। 

विस्तार

स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद हर छात्र का सपना होता है कि उसे अच्छी नौकरी मिले, रूतबा मिले। कई युवक सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करना चाहते हैं और इसके लिए जी तोड़ मेहनत करते हैं। कठिन परीक्षा से गुजरते हैं और तब कहीं जाकर उनका चयन हो पाता है। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो जालसाजी कर खुद को सैन्यकर्मी बताते हुए लोगों को गुमराह करते हैं।

ऐसा ही एक मामला मध्यप्रदेश के हरदा में सामने आया है जहां एक युवक ने खुद को वायुसेना कर्मी बताया। उसकी बात का यकीन कर लोगों ने उसका स्वागत कर जुलूस भी निकाला। इसमें कई नेता भी शामिल हुए। जब एयरफोर्स को इस बात की जानकारी मिली तो युवक के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस को पत्र लिखा। पुलिस ने युवक के खिलाफ केस दर्ज किया है। युवक फरार है। जांच में पता चला कि युवक के पिता मजदूरी करते हैं। युवक ने पिता को बताया था कि वह सेना में भर्ती हो गया है। पिता को इसलिए यकीन हो गया क्योंकि युवक बीच-बीच में आठ से दस दिन के लिए घर आता था। 

सेना की वर्दी में निकाला जुलूस

युवक हरदा के पलियाखाल का निवासी है। उसने परिजनों व कॉलोनी वालों को बताया था कि उसका चयन वायुसेना में हो गया है। सेना की वर्दी में परिजनों और रिश्तेदारों के साथ उसने खुशियां मनाई। सम्मान में उसका जुलूस भी निकाला गया। सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल हुआ और वायुसेना के कार्यालय तक पहुंचा। वहां से कहा गया कि इस तरह की कोई नियुक्ति एयरफोर्स द्वारा नहीं की गई है। इस संबंध में हरदा पुलिस को पत्र लिखा गया। इसके बाद पुलिस ने युवक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। 



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *