खरगौन: बिस्टान मामले में CM शिवराज का बड़ा एक्शन, SP शैलेंद्र सिंह चौहान को पद से हटाया

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में आदिवासियों से जुड़े अपराध के मामले को लेकर सियासत जारी है. सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने खरगोन की घटना को लेकर बड़ा फैसला लेते हुए एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान को हटा दिया है .आदिवासी की मौत के मामले में पहले एएसआई समेत चार पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई हो चुकी है. सरकार ने पहले ही घटना के लिए जिम्मेदार दो एसआई को लाइन अटैच और चार पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने की कार्रवाई की थी. लेकिन अब पूरे मामले में लापरवाही बरतने पर खरगोन एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान (SP Shailendra Singh Chauhan) पर गाज गिरी है. सरकार ने शैलेंद्र सिंह को खरगोन एसपी पद से हटा दिया है.

वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पूरे मामले की न्यायिक जांच हो रही है. जांच रिपोर्ट आने के बाद संबंधित दोषियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी. साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा है कि नीमच में आदिवासी की मौत के मामले में आरोपियों पर सख्त एक्शन हो चुका है. नीमच में आदिवासी कन्हैयालाल के दोनों भाइयों को सरकार आर्थिक मदद देगी. मकान बनाने के लिए भी राशि दी जाएगी. सरकार ने दो लाख की आर्थिक मदद की है. कन्हैया लाल के बेटे की परवरिश का खर्चा भी सरकार उठाएगी.

कांग्रेस ने की थी सीबीआई जांच की मांग

दरअसल, नीमच में एक आदिवासी कन्हैया को गाड़ी से रस्सी से बांधकर घसीटा गया था. इसके बाद उसकी मौत हो गई थी. फिर खरगोन के बिस्टान थाना में आदिवासी की मौत के मामले पर जमकर सियासी बवाल मच गया. कांग्रेस के जांच दल ने एक दिन पहले पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की थी. पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधो के नेतृत्व में खरगोन में आदिवासी की मौत के मामले की जांच कर लौटे विधायक दल ने पूरे मामले को गंभीर बताते हुए सीबीआई जांच की मांग की थी. पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधो ने आरोप लगाया था कि पुलिस कस्टडी में ही आदिवासी की मौत हुई है और पूरा मामला उच्च स्तरीय जांच का है.

ये भी पढ़ें:  MP Politics: पीसी शर्मा बोले, ‘नरोत्तम मिश्रा के इशारों पर राजेंद्र भारती के खिलाफ दर्ज हुए झूठे केस’

बहरहाल, प्रदेश में आदिवासियों को लेकर सियासत जोरों पर है. लेकिन बीते कुछ दिनों में एक के बाद एक हुई घटनाओं के बाद विपक्ष को सरकार को घेरने का मौका मिल गया है. वहीं अब सरकार पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए एक्शन मोड पर नजर आ रही है. यही कारण है कि खरगोन की घटना के मामले में अब भारतीय पुलिस सेवा के अफसर पर गाज गिरी है. न्यायिक जांच रिपोर्ट पूरी होने के बाद कुछ और लोगों पर कार्रवाई होना तय माना जा रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *