कोरोना से जंग: बारामुला में सेना ने चलाया टीकाकरण अभियान, लोगों को किया जागरूक

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू
Published by: प्रशांत कुमार
Updated Thu, 10 Jun 2021 04:37 PM IST

सार

बारामुला जिले में सेना ने गुरुवार को टीकाकरण अभियान चलाया।

बारामुला में टीकाकरण अभियान
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

सेना ने गुरुवार को उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले में पूर्व सैनिकों और स्थानीय लोगों के लिए टीकाकरण अभियान चलाया। दोपहर तक कुल 17 भूतपूर्व सैनिकों, आश्रितों और 54 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। इसके साथ ही कोविन-एप पर उनका पंजीकरण भी किया गया।

एक अधिकारी ने कहा कि ‘सेवा परमो धर्म’ के अनुरूप भारतीय सेना के उप्लोना सेना शिविर ने पूर्व सैनिकों (ईएसएम) के लिए एक टीकाकरण अभियान चलाया। भारतीय सेना अपने पूर्व सैनिकों की भलाई के लिए प्रतिबद्ध है।

इन्हीं प्रयासों को जारी रखते हुए, हैदरबेग सेक्टर के तत्वावधान में उप्लोना सेना शिविर में भूतपूर्व सैनिकों और उनके परिवार के सदस्यों के लिए एक सामूहिक टीकाकरण अभियान का आयोजन किया गया था। इस दौरान महामारी के खिलाफ लड़ाई में टीकाकरण के महत्व और इसके लाभों के बारे में भी शिक्षित किया गया।

इस दौरान एक स्थानीय नागरिक ने कहा कि हम सभी सेना की 52-आरआर के शुक्रगुजार हैं कि उन्होंने सभी से संपर्क किया और टीकाकरण के लिए बुलाया। इससे पहले हम लोग अस्पताल के कई चक्कर लगा चुके थे लेकिन वहां वैक्सीन उपलब्ध नहीं थी।

यह भी पढ़ें- इंजीनियरिंग का नायाब अजूबा: बनिहाल-काजीगुंड टनल बनकर तैयार, तस्वीरें देख हैरान रह जाएंगे

विस्तार

सेना ने गुरुवार को उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले में पूर्व सैनिकों और स्थानीय लोगों के लिए टीकाकरण अभियान चलाया। दोपहर तक कुल 17 भूतपूर्व सैनिकों, आश्रितों और 54 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। इसके साथ ही कोविन-एप पर उनका पंजीकरण भी किया गया।

एक अधिकारी ने कहा कि ‘सेवा परमो धर्म’ के अनुरूप भारतीय सेना के उप्लोना सेना शिविर ने पूर्व सैनिकों (ईएसएम) के लिए एक टीकाकरण अभियान चलाया। भारतीय सेना अपने पूर्व सैनिकों की भलाई के लिए प्रतिबद्ध है।

इन्हीं प्रयासों को जारी रखते हुए, हैदरबेग सेक्टर के तत्वावधान में उप्लोना सेना शिविर में भूतपूर्व सैनिकों और उनके परिवार के सदस्यों के लिए एक सामूहिक टीकाकरण अभियान का आयोजन किया गया था। इस दौरान महामारी के खिलाफ लड़ाई में टीकाकरण के महत्व और इसके लाभों के बारे में भी शिक्षित किया गया।

इस दौरान एक स्थानीय नागरिक ने कहा कि हम सभी सेना की 52-आरआर के शुक्रगुजार हैं कि उन्होंने सभी से संपर्क किया और टीकाकरण के लिए बुलाया। इससे पहले हम लोग अस्पताल के कई चक्कर लगा चुके थे लेकिन वहां वैक्सीन उपलब्ध नहीं थी।

यह भी पढ़ें- इंजीनियरिंग का नायाब अजूबा: बनिहाल-काजीगुंड टनल बनकर तैयार, तस्वीरें देख हैरान रह जाएंगे



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *