केन्‍द्र सरकार नार्थ-ईस्‍ट में पर्यटन को देगी बढ़ावा, जानें क्‍या है पर्यटन मंत्रालय की योजना

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


नई दिल्‍ली  /  गुवाहाटी. केन्‍द्र सरकार नार्थ ईस्‍ट के राज्‍यों (North East State) में पर्यटन को बढावा देने की तैयारी कर रहा है. सरकार ने यहां पर स्‍वदेश दर्शन (Swadesh Darshan) और प्रशाद (PRASHAD) जैसी योजना शुरू कर रखी है. अब पर्यटकों को यहां पर पहुंचाने के लिए हवाई, रेलवे और सड़क कनेक्‍टीविटी भी बेहतर की जाएगी. इसके लिए गुवाहाटी में पहली बार दो दिवसीय 13 और 14 सितंबर को कॉन्‍क्‍लेव का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें केन्‍द्रीय पर्यटन, संस्‍कृति और पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकास मंत्री जी. किशन रेड्डी, असम के मुख्‍यमंत्री समेत नार्थ ईस्‍ट के सभी राज्‍यों के पर्यटन और संस्‍कृति मंत्री समेत केन्‍द्र और राज्‍य के तमाम अधिकारी एक साथ भाग लेंगे.
पर्यटन मंत्रालय के अनुसार कॉन्‍क्‍लेव के पहले दिन नार्थ ईस्‍ट में पर्यटन बुनियादी ढांचे को बेहतर करने, विकासको बढ़ावा देने और स्किल विकास के के लिए प्रोजेक्‍ट की जानकारी देगा. पर्यटन के विकास के लिए स्थानीय कला और संस्कृति को बढ़ावा देने पर संस्कृति मंत्रालय द्वारा प्रजेंटेशन भी दिया जाएगा. हवाई, रेलवे, सड़क मार्ग से बेहतर कनेक्‍टीविटी पर भी चर्चा कर कार्य योजना कनाई जाएगी. मंत्रालय पर्यटन द्वारा बढ़ावा देने के लिए स्वदेश दर्शन और प्रशाद (तीर्थ यात्रा कायाकल्प और आध्यात्मिक, विरासत संवर्धन अभियान पर राष्ट्रीय मिशन) के तहत राज्यों को वित्‍तीय सहायता दी जा रही है.
पर्यटन मंत्रालय ने स्वदेश दर्शन योजना के तहत पूर्वोत्तर क्षेत्र में 1300 करोड़ रुपये से अधिक की 16 परियोजनाओं जैसे पूर्वोत्तर, विरासत, इको सर्किट, आध्यात्मिक, आदिवासी आदि को मंजूरी दी है. पूर्वोत्तर में इस योजना के तहत 193.61 करोड़ रुपये की कुल 06 परियोजनाओं को मंजूरी दी गई है, जिसमें 29.99 करोड़ रुपये की राशि के लिए गुवाहाटी में कामाख्या मंदिर और तीर्थ स्थल का विकास शामिल है. वहीं दूसरे दिन यानी 14 सितंबर को तकनीकी सत्र में स्वदेश दर्शन और प्रशाद योजनाओं के तहत स्वीकृत विभिन्न परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा की जाएगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *