एक बार फिर चर्चा में जम्मू की जेल: सीआईडी की छापेमारी ने खोली सुरक्षा व्यवस्था की पोल

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू
Published by: प्रशांत कुमार
Updated Thu, 15 Jul 2021 01:02 PM IST

सार

सेंट्रल जेल में मोबाइल फोन बरामद होने के बाद जेल प्रशासन की व्यवस्था पर सवाल खड़े हो गए हैं। आखिर जेल के अंदर मोबाइल कैसे पहुंचे, ये बड़ा सवाल है।

ख़बर सुनें

सीआईडी ने गुरुवार को सेंट्रल जेल जम्मू, कोट भलवाल में छापेमारी की। इस दौरान 10 मोबाइल फोन, चार पेन ड्राइव,  मोबाइल चार्जर और हेडफोन बरामद हुए हैं। इस बारमदगी ने जेल प्रशासन की व्यवस्था और सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिए है। ज्ञात हो कि जेल में कई आतंकी बंद हैं। ऐसे में कड़ी सुरक्षा के बाद भी यहां मोबाइल मिलना काफी गंभीर मामला है। 

अधिकारियों ने कहा कि जम्मू में उच्च सुरक्षा वाली कोट भलवाल जेल में जांच के दौरान 10 मोबाइल फोन जब्त किए गए। पिछले 15 दिनों में जेल परिसर के अंदर 17 ऐसे उपकरण जब्त किए गए हैं। मोबाइल फोन की जब्ती को गंभीर सुरक्षा चिंता बताते हुए कहा कि इस संबंध में उच्च स्तरीय जांच शुरू कर दी गई है।

कुछ विशेष इनपुट के बाद जम्मू पुलिस, सीआरपीएफ और सीआईडी की संयुक्त टीम ने कोट भलवाल जेल में एक बड़ा अभियान शुरू किया था। इस दौरान मोबाइल फोन जब्त किए गए, जिनका कुछ कैदियों द्वारा इस्तेमाल किया जा रहा था। 

बता दें कि कोट भलवाल जेल में पहले भी आतंकियों द्वारा मोबाइल फोन इस्तेमाल किए जाते रहे हैं। पिछले साल जनवरी महीने में पुलिस को दो मोबाइल और तीन पेन ड्राइव मिली थीं।

यह भी पढ़ें- टूट रही हैं कट्टरता की जंजीरें: विकासपथ पर घाटी की महिलाएं, इन हाथों में छिपी है बदलते कश्मीर की कहानी    

विस्तार

सीआईडी ने गुरुवार को सेंट्रल जेल जम्मू, कोट भलवाल में छापेमारी की। इस दौरान 10 मोबाइल फोन, चार पेन ड्राइव,  मोबाइल चार्जर और हेडफोन बरामद हुए हैं। इस बारमदगी ने जेल प्रशासन की व्यवस्था और सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिए है। ज्ञात हो कि जेल में कई आतंकी बंद हैं। ऐसे में कड़ी सुरक्षा के बाद भी यहां मोबाइल मिलना काफी गंभीर मामला है। 

अधिकारियों ने कहा कि जम्मू में उच्च सुरक्षा वाली कोट भलवाल जेल में जांच के दौरान 10 मोबाइल फोन जब्त किए गए। पिछले 15 दिनों में जेल परिसर के अंदर 17 ऐसे उपकरण जब्त किए गए हैं। मोबाइल फोन की जब्ती को गंभीर सुरक्षा चिंता बताते हुए कहा कि इस संबंध में उच्च स्तरीय जांच शुरू कर दी गई है।

कुछ विशेष इनपुट के बाद जम्मू पुलिस, सीआरपीएफ और सीआईडी की संयुक्त टीम ने कोट भलवाल जेल में एक बड़ा अभियान शुरू किया था। इस दौरान मोबाइल फोन जब्त किए गए, जिनका कुछ कैदियों द्वारा इस्तेमाल किया जा रहा था। 

बता दें कि कोट भलवाल जेल में पहले भी आतंकियों द्वारा मोबाइल फोन इस्तेमाल किए जाते रहे हैं। पिछले साल जनवरी महीने में पुलिस को दो मोबाइल और तीन पेन ड्राइव मिली थीं।

यह भी पढ़ें- टूट रही हैं कट्टरता की जंजीरें: विकासपथ पर घाटी की महिलाएं, इन हाथों में छिपी है बदलते कश्मीर की कहानी    



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *