उपलब्धि: राजस्थान की 20 वर्षीय अदिति माहेश्वरी एक दिन के लिए बनीं भारत की ब्रिटिश उच्चायुक्त

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: अभिषेक दीक्षित
Updated Sun, 10 Oct 2021 10:41 PM IST

सार

जानकारी के मुताबिक, अदिति ने विजेता बनकर भारत में ब्रिटेन की शीर्ष राजनयिक के रूप में शुक्रवार को विभिन्न प्रकार की राजनयिक गतिविधियों का अनुभव किया।

ख़बर सुनें

राजस्थान की 20 वर्षीय अदिति माहेश्वरी हाल ही में एक दिन के लिए भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त बनी हैं। अदिति माहेश्वरी दिल्ली विश्वविद्यालय के मिरांडा हाउस कॉलेज से भौतिक विज्ञान में स्नातक की पढ़ाई कर रही हैं। दरअसल, 11 अक्तूबर को ‘अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस’ मनाने के लिए 2017 से प्रतिवर्ष इस प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। इस अखिल भारतीय प्रतियोगिता के विजेता के पास एक दिन के लिए राजनयिक मिशन का नेतृत्व करने का अनूठा अवसर मिलता है। 

अदिति इस प्रतियोगिता की पांचवीं विजेता हैं, जिन्हें ये तमगा मिला है। उन्होंने भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में शामिल होने की इच्छा जताई है। जानकारी के मुताबिक, अदिति ने विजेता बनकर भारत में ब्रिटेन की शीर्ष राजनयिक के रूप में शुक्रवार को विभिन्न प्रकार की राजनयिक गतिविधियों का अनुभव किया। 

वहीं, ब्रिटिश उच्चायुक्त ने कहा कि इस दौरान अदिति ने यहां मंत्री राज कुमार सिंह और क्वासी क्वार्टेंग के साथ भारत-ब्रिटेन एनर्जी फॉर ग्रोथ डायलॉग का भी अवलोकन किया। बकौल अदिति, ब्रिटेन और भारत दोनों जलवायु परिवर्तन और लैंगिक असमानता जैसे मुद्दों पर काफी काम कर रहे है। वहीं एक युवा महिला के रूप में मैं भी इस विषय पर अपने प्रयास करूंगी। मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे ये अवसर मिला। मुझे उच्चायुक्त के रूप में एक इलेक्ट्रिक वाहन में इधर-उधर घूमने में भी मजा आया।

विस्तार

राजस्थान की 20 वर्षीय अदिति माहेश्वरी हाल ही में एक दिन के लिए भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त बनी हैं। अदिति माहेश्वरी दिल्ली विश्वविद्यालय के मिरांडा हाउस कॉलेज से भौतिक विज्ञान में स्नातक की पढ़ाई कर रही हैं। दरअसल, 11 अक्तूबर को ‘अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस’ मनाने के लिए 2017 से प्रतिवर्ष इस प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। इस अखिल भारतीय प्रतियोगिता के विजेता के पास एक दिन के लिए राजनयिक मिशन का नेतृत्व करने का अनूठा अवसर मिलता है। 

अदिति इस प्रतियोगिता की पांचवीं विजेता हैं, जिन्हें ये तमगा मिला है। उन्होंने भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में शामिल होने की इच्छा जताई है। जानकारी के मुताबिक, अदिति ने विजेता बनकर भारत में ब्रिटेन की शीर्ष राजनयिक के रूप में शुक्रवार को विभिन्न प्रकार की राजनयिक गतिविधियों का अनुभव किया। 

वहीं, ब्रिटिश उच्चायुक्त ने कहा कि इस दौरान अदिति ने यहां मंत्री राज कुमार सिंह और क्वासी क्वार्टेंग के साथ भारत-ब्रिटेन एनर्जी फॉर ग्रोथ डायलॉग का भी अवलोकन किया। बकौल अदिति, ब्रिटेन और भारत दोनों जलवायु परिवर्तन और लैंगिक असमानता जैसे मुद्दों पर काफी काम कर रहे है। वहीं एक युवा महिला के रूप में मैं भी इस विषय पर अपने प्रयास करूंगी। मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे ये अवसर मिला। मुझे उच्चायुक्त के रूप में एक इलेक्ट्रिक वाहन में इधर-उधर घूमने में भी मजा आया।



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *