उत्तराखंड: वीकेंड पर पर्यटक स्थलों के लिए नई गाइड लाइन जारी, दुपहिया वाहन के प्रवेश पर रोक

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


सार

मसूरी, सहस्रधारा व गुच्चुपानी जैसे पर्यटक स्थल पर वीकेंड पर नदी, तालाब व झरनों में पर्यटकों का प्रवेश भी प्रतिबंधित कर दिया गया है।

देहरादून जिला प्रशासन ने नई गाइड-लाइन जारी की है
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर वीकेंड पर जुट रही भीड़ को रोकने के लिए देहरादून जिला प्रशासन ने नई गाइड-लाइन जारी की है। देहरादून जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने वीकेंड पर मसूरी में दुपहिया वाहन के प्रवेश पर रोक लगा दी है। 

कोरोना की तीसरी लहरः डॉक्टरों की चेतावनी, हवा में नमी कम होते ही तेज हो सकता है संक्रमण

मसूरी, सहस्रधारा व गुच्चुपानी जैसे पर्यटक स्थल पर वीकेंड पर नदी, तालाब व झरनों में पर्यटकों का प्रवेश भी प्रतिबंधित कर दिया गया है। इसके साथ ही पहले की तरह मसूरी आने वाले पर्यटकों के लिए 72 घंटे पहले की कोरोना निगेटिव जांच रिपोर्ट, देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन व होटल बुकिंग के दस्तावेज दिखाने अनिवार्य रहेगी।

देहरादून: मसूरी घूमने के लिए पूरे परिवार की फर्जी कोरोना रिपोर्ट लेकर पहुंचा युवक, कैंपटी से वापस भेजे 412 सैलानी

जिलाधिकारी ने बताया कि यह व्यवस्था व नियम शनिवार की सुबह से सोमवार सुबह आठ बजे तक लागू रहेगी। हाईकोर्ट के आदेश पर नैनीताल में वीकेंड पर दुपहिया के प्रवेश पर पिछले हफ्ते ही रोक लगा दी गई थी। अब इस वीकेंड के लिए नए नियम जारी करते हुए जिलाधिकारी ने दुपहिया से प्रवेश पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।

आपातकालीन स्थिति में ही उपरोक्त शर्तों के बिना देहरादून से मसूरी जाने दिया जाएगा। मसूरी के स्थानीय निवासी अपना पहचान पत्र दिखाकर आवागमन कर सकेंगे।

टिहरी गढ़वाल स्थित कैंपटी से बुधवार को 412 सैलानियों को पुलिस ने वापस लौटा दिया। ये सैलानी कोरोना जांच रिपोर्ट लेकर नहीं पहुंचे थे। इसके अलावा मास्क न लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने पर 40 लोगों का चालान किया गया। 

थानाध्यक्ष नवीन चंद्र जुराल ने बताया कि बुधवार को कोरोना जांच, होटल बुकिंग और स्मार्ट सिटी पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं करने वाले 93 वाहनों के 412 सैलानियों को कैंपटी से वापस लौटाया गया। फॉल में पानी साफ होने के बाद बुधवार को यहां रस्सी हटवा दी गई है।

मसूरी शहर कोतवाल राजीव रौथाण ने बताया कि बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने पर 45 सैलानियों का चालान किया है। इसके अलावा एमवी एक्ट में 10 वाहनों का तहत चालान किया गया। 

217 लोगों ने कराई जांच, सभी निगेटिव
मसूरी में मंगलवार को चार लोगों के संक्रमित मिलने बाद सैंपलिंग बढ़ा दी गई है। बुधवार को शहर में 149 आरटीपीसीआर और 68 लोगों की रेपिड एंटीजन जांच की गई, जिसमें कोई भी कोरोना संक्रमित नहीं पाया गया। 

विस्तार

कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर वीकेंड पर जुट रही भीड़ को रोकने के लिए देहरादून जिला प्रशासन ने नई गाइड-लाइन जारी की है। देहरादून जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने वीकेंड पर मसूरी में दुपहिया वाहन के प्रवेश पर रोक लगा दी है। 

कोरोना की तीसरी लहरः डॉक्टरों की चेतावनी, हवा में नमी कम होते ही तेज हो सकता है संक्रमण

मसूरी, सहस्रधारा व गुच्चुपानी जैसे पर्यटक स्थल पर वीकेंड पर नदी, तालाब व झरनों में पर्यटकों का प्रवेश भी प्रतिबंधित कर दिया गया है। इसके साथ ही पहले की तरह मसूरी आने वाले पर्यटकों के लिए 72 घंटे पहले की कोरोना निगेटिव जांच रिपोर्ट, देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन व होटल बुकिंग के दस्तावेज दिखाने अनिवार्य रहेगी।

देहरादून: मसूरी घूमने के लिए पूरे परिवार की फर्जी कोरोना रिपोर्ट लेकर पहुंचा युवक, कैंपटी से वापस भेजे 412 सैलानी

जिलाधिकारी ने बताया कि यह व्यवस्था व नियम शनिवार की सुबह से सोमवार सुबह आठ बजे तक लागू रहेगी। हाईकोर्ट के आदेश पर नैनीताल में वीकेंड पर दुपहिया के प्रवेश पर पिछले हफ्ते ही रोक लगा दी गई थी। अब इस वीकेंड के लिए नए नियम जारी करते हुए जिलाधिकारी ने दुपहिया से प्रवेश पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।

आपातकालीन स्थिति में ही उपरोक्त शर्तों के बिना देहरादून से मसूरी जाने दिया जाएगा। मसूरी के स्थानीय निवासी अपना पहचान पत्र दिखाकर आवागमन कर सकेंगे।


आगे पढ़ें

कैंपटी से वापस भेजे गए 412 सैलानी



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *