इंदौर को मिल सकती है कोरोना कर्फ्यू में राहत, जानिए कितने फीसदी खाली हुए कोविड बेड

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में कोरोना की स्थिति धीरे-धीरे काबू में आ रही है. नए मरीजों की संख्या घटी है. (File)

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर को कोरोना कर्फ्यू में राहत मिलने की उम्मीद है. यहां कोरोना पर लगाम लगती दिखाई दे रही है. अब मरीज ज्यादा संख्या में अस्पतालों में नहीं आ रहे.

इंदौर. मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर को जनता कर्फ्यू में राहत मिल सकती है. कोरोना संक्रमण की रफ्तार अब धीरे-धीरे काबू होती जा रही है. शनिवार को जिले के अस्पतालों में 1227 मरीज भर्ती थे. कई दिनों से अधिकतम अस्पतालों में कोई नया मरीज भर्ती नहीं किया गया. कोविड के 82% बेड यहां खाली हो चुके हैं.

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, शहर में जून की साप्ताहिक पॉजिटिव दर 2.67% हो गई है. स्थिति को लेकर जिला आपदा प्रबंधन समूह रविवार को बैठक करेगा और समीक्षा के बाद राहत की घोषणा कर सकता है. लोग चाहते हैं कि शहर में भी 20 लोगों की उपस्थिति में शादी, 50% दुकान खोलने, निजी कार्यालय, मोहल्ले, की दुकानें पूरे समय खोलने, रेस्त्रां शुरू करने की मंजूरी दी जाए.

प्रदेश में भी कम हो रही मरीजों की संख्या

मध्य प्रदेश में कोरोना अब काबू में होता दिख रहा है. शुक्रवार को सामने आए सरकारी आंकड़ो के मुताबिक अब अस्पतालों में इलाज कराने वाले मरीजों की संख्या केवल 5006 बची है. जबकि, 7883 मरीज होम आइसोलेशन में हैं. अस्पतालों में भर्ती मरीजों में केवल 1834 मरीज ICU में, 2011 मरीज ऑक्सीजन बैड्स पर और 1161 मरीज सामान्य बैड्स पर हैं.स्वास्थ्य विभाग से जारी आंकड़ों के मुताबिक, बीते 24 घण्टों में 798 नए मरीज सामने आए. 2045 मरीज स्वस्थ हुए. अब एमपी में एक्टिव केस 12889 रह गए हैं. प्रदेश की साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 1.5% और आज की पॉजिटिविटी रेट 1.0% है.

ये है जिलों की स्थिति

प्रदेश के 32 जिले ग्रीन जोन में आ चुके हैं. तीन जिलों अलीराजपुर, छतरपुर तथा झाबुआ में कोई नया केस नहीं मिला. तीन जिलों बुरहानपुर, कटनी तथा मंडला में 1-1 नए केस और अलीराजपुर जिले में केवल 2 एक्टिव केस बचे हैं. केवल 4 जिलों में ही 15 से अधिक केस आए हैं. इंदौर में 246, भोपाल में 176, जबलपुर में 64 तथा सागर में 18 नए केस आए हैं.

सरकार टेस्टिंग और ट्रेसिंग पर ज़ोर देने का दावा कर रही है. प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए हैं कि अधिक से अधिक  व्यक्तियों के टेस्ट कराए जाएं. पॉजिटिव पाए गए हर व्यक्ति की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग करें. सीएम ने जबलपुर को लेकर कहा कि जबलपुर में कोरोना के 64 नए प्रकरण आए हैं. साप्ताहिक पॉजिटिविटी 1.5% है तथा आज की पॉजिटिविटी 1.1% है. अस्पतालों में आई.सी.यू. में कोरोना के  370 मरीज भर्ती हैं.









Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *