अगले चार दिन कई राज्यों में भारी बारिश का अनुमान, जानिए मौसम अपडेट

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


नई दिल्ली: मौसम विभाग ने देशभर के अलग-अलग राज्यों में अगले 4 दिनों के लिए अलर्ट जारी किया है. कई जगहों पर भारी से बहुत भारी बरसात होने का अनुमान है. कुछ जगहों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है और कुछ जगहों के लिए येलो अलर्ट है. 22 जुलाई को कोंकण और गोवा के कुछ इलकों में बरसात की अति हो सकती है. इसके अलावा मध्य महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़ और तटीय आंध्र प्रदेश में कुछ जगहों पर भारी बरसात की चेतावनी है. उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भी कुछ जगहों पर भारी बरसात का अनुमान लगाया गया है.

मौसम विभाग के अनुसार 22 जुलाई की तरह 23 जुलाई को भी कोंकण और गोवा में कई  जगहों पर अति से अत्याधिक बरसात हो सकती है, इसके अलावा मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, मध्य महाराष्ट्र, में भारी से बहुत भारी और पूर्वी राजस्थान, विदर्भ, पूर्वी राजस्थान, गुजरात क्षेत्र, मराठवाड़ा, तटीय आंध्र प्रदेश और तटीय आंतरिक कर्नाटक में भारी बरसात का अनुमान है. मौसम विभाग के अनुसार 24 जुलाई को गुजरात क्षेत्र, कोंकण और गोवा में भारी से बहुत भारी और पूर्वी राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिसा, मध्य महाराष्ट्र, तेलंगाना तथा तटीय और दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक में कुछेक जगहों पर भारी बरसात की चेतावनी है. 25 जुलाई को भी कोंकण और गोवा में भारी से बहुत भारी बरसात हो सकती है. उत्तराखंड, गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, मध्य महाराष्ट्र, ओडिशा, तटीय आंद्र प्रदेश तथा तटीय आंतरिक कर्नाटक में भी भारी बररसात की चेतावनी जारी की गई है.

मुंबई में भारी से बहुत भारी बारिश का पूर्वानुमान
मौसम विभाग के क्षेत्रीय केंद्र ने मुंबई में भारी से बहुत भारी बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त करते हुए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है. क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के प्रमुख डॉ जयंत सरकार ने यहां कहा कि इससे पहले मौसम विभाग ने ‘ओरेंज अलर्ट’ जारी किया था, लेकिन अब ‘अनुकूल समसामयिक परिस्थितियों’ के कारण बदलाव के बाद बुधवार के लिए इसे ‘रेड अलर्ट’ कर दिया गया है. 

महाराष्ट्र और कर्नाटक के बीच तट पर कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है जिससे अकसर अरब सागर से जमीन पर नमी वाली पश्चिमी हवाएं चलती हैं. महाराष्ट्र में पूर्वी-पश्चिमी हवा प्रणालियां हैं और इससे मानसून के अनुकूल परिस्थितियां बन रही है. इस वजह से कोंकण, गोवा और मध्य महाराष्ट्र विशेष तौर पर घाट वाले इलाकों में बहुत भारी बारिश के लिए दो समसामयिक प्रणालियां हैं.

दक्षिणी तमिलनाडु के जिलों में बाढ़ की चेतावनी
लगातार बारिश से वैगा बांध में जल स्तर बढ़ने के बाद मदुरै जिले सहित तमिलनाडु के दक्षिणी जिलों में दूसरी बार बाढ़ की आने की संभावना है. राज्य के जल संसाधन मंत्री के कार्यालय से एक बयान में कहा गया है कि विभाग दूसरा बाढ़ अलर्ट तभी जारी करेगा, जब वैगा में जल स्तर 68.5 फीट तक पहुंच जाएगा. राज्य के दक्षिणी जिलों में पिछले कुछ दिनों से रुक-रुक कर बारिश हो रही है और बादल छाए हुए हैं. प्रमुख बांधों के जलग्रहण क्षेत्रों में जल स्तर अच्छा जल प्रवाह प्राप्त हुआ है. वैगई बांध का जल स्तर 9 जुलाई को 66 फीट को पार कर गया और इसके कारण पहली बाढ़ चेतावनी जारी की गई.

ये भी पढ़ें-
प्रत्यर्पण से बचने के लिए नीरव मोदी की नई चाल- जेल, कोरोना, आत्महत्या और बीमारी का दिया हवाला

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान आज से जंतर-मंतर पर ‘किसान संसद’ आयोजित करेंगे



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *