OMG: भारत के खिलाफ रूट ने जब भी टेस्ट शतक लगाया, इंग्लैंड नहीं हारा, अब तक लगा चुके हैं पांच शतक


चेन्नई (आईएएनएस)। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने जब भी भारत के खिलाफ टेस्ट मैच में शतकीय पारी खेली है, टीम इंडिया उस मैच में जीत से महरूम रही है। रूट ने भारत के साथ जारी चार मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच में भी 218 रनों की शतकीय पारी खेली और इंग्लैंड मंगलवार को पहला टेस्ट 227 रनों से जीतने में सफल रहा। रूट ने भारत के खिलाफ अब तक पांच शतक लगाए हैं। यह सिलसिला जुलाई, 2014 में नॉर्टिघम में शुरू हुआ था। तब रूट ने नाबाद 154 की पारी खेली थी। यह मैच हालांकि बेनतीजा रहा था।

इसके बाद अगस्त, 2014 में उसी सीरीज में द ओवल, लंदन में रूट ने नाबाद 149 रनों की दमदार पारी खेली और इंग्लैंड को पारी और 244 रनों की बड़ी जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। रूट ने भारत के खिलाफ तीसरा शतक (124 रन) राजकोट के मैदान पर नवंबर, 2016 में जड़ा था और ये मैच ड्रॉ रहा था। उनकी एक और शतकीय पारी की बदौलत इंग्लैंड ने भारत को सितंबर, 2018 में द ओवल, लंदन में खेले गए टेस्ट मैच में 118 रनों से हरा दिया था।

रूट ने इसके बाद चार मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच में भी 218 रनों की शतकीय पारी खेली और इंग्लैंड की टीम मंगलवार को पहला टेस्ट 227 रनों से मैच जीतने में सफल रही।न्होंने भारत के खिलाफ पहले टेस्ट में करियर का पांचवां दोहरा शतक लगाया था। पहला टेस्ट रूट के करियर का 100वां टेस्ट था और वह अपने अपने 100वें टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले पहले क्रिकेटर बने थे। रूट टेस्ट में सर्वाधिक दोहरे शतक लगाने वाले संयुक्त रूप से इंग्लैंड के दूसरे बल्लेबाज बने हैं। पूर्व कप्तान एलेस्टेयर कुक के नाम भी पांच दोहरा शतक है। वहीं, वॉली हेमंड के नाम सात शतक दोहरा शतक है।

रूट अपने 100वें टेस्ट में शतक लगाने वाले नौवें बल्लेबाज बने थे। उनसे पहले, कॉलिन कौड्रे, जावेद मियांदाद, गॉर्डन ग्रीनिज, एलेक स्टीवर्ट, इंजमाम-उल-हक, रिकी पोंटिंग (दोनों पारियों में शतक), ग्रीम स्मिथ और हाशिम अमला अपने 100वें टेस्ट मैच में शतक लगा चुके हैं। पोंटिंग ने 2006 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपनी दोनों पारियों में शतक जमाया था।

साथ ही रूट पहले ऐसे क्रिकेटर बन गए हैं, जिन्होंने अपने 98वें, 99वें और 100वें टेस्ट मैचों में शतक जमाया है। रूट के टेस्ट करियर का यह अब तक का 20वां और इस साल तीसरा शतक है। उन्होंने इससे पहले दो शतक श्रीलंका दौरे पर लगाया था। इसके अलावा वह साथ ही तीसरे ऐसे क्रिकेटर्स बन गए हैं, जिन्होंने अपना पहला और 100वां टेस्ट एक ही देश के खिलाफ खेला है। रूट ने भारत के खिलाफ ही 2012 में नागपुर टेस्ट में पदार्पण किया था। रूट से पहले वेस्टइंडीज के कार्ल हूपर और भारत के कपिल देव भी अपना पहला और 100वां टेस्ट एक ही देश के खिलाफ खेल चुके हैं।



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *