MP: क्या सीएम शिवराज के बेटे कर रहे राजनीति में प्रवेश की तैयारी, इशारा तो इसी तरफ है!– News18 Hindi


भोपाल. नसरुल्लागंज में 14-21 फरवरी तक होने वाले PSL (प्रेम सुंदर लीग )का उद्घाटन विख्यात क्रिकेटर और BJP सांसद गौतम गंभीर करेंगे. इस मौके पर राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद रहेंगे. टूर्नामेंट नसरुल्लागंज के उत्कृष्ट विद्यालय ग्राउंड में खेल जाएगा. इसमें बुधनी विधानसभा क्षेत्र की 180 ग्राम पंचायतों की बेस्ट 16 टीमें हिस्सा ले रही हैं.

दरअसल PSL टूर्नामेंट का क्रिकेट के अलावा एक और महत्व है. वह यह कि राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि इसके बहाने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बेटे कार्तिकेय को अपने परंपरागत विधानसभा क्षेत्र बुधनी की विरासत सौंपने की तैयारी कर रहे हैं. गौरतलब है कि प्रदेश के 8 पूर्व मुख्यमंत्री अपने बेटों को राजनीति में लॉन्च कर चुके हैं. इनमें विद्याचरण शुक्ल, श्यामाचरण शुक्ल से लेकर नकुलनाथ तक शामिल हैं. नकुलनाथ छिंदवाड़ा से सांसद बन चुके हैं.

इतनी जगहों पर डेनाइट मैच करा चुके सीएम के बेटे

कार्तिकेय इससे पहले विधानसभा की 180 ग्राम पंचायतों की टीमों का टूर्नामेंट करा चुके हैं, जिसे प्रेम सुंदर मेमोरियल नाम दिया गया था. इसमें से बेहतर प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों की 16 टीमें बनाई गई हैं, जो PSL में खेलेंगी. सभी 180 पंचायतों की टीमों को क्रिकेट की किट वितरित करने की तैयारी हो चुकी है. उद्घाटन मैच के दौरान प्रतीकात्मक तौर पर क्रिकेट किट अतिथियों के हाथों दी जाएगी.

3 जनवरी को युवा कुंभ में ये कहा था कार्तिकेय ने

3 जनवरी को इंदौर में हुए युवा कुंभ में कार्तिकेय ने कहा था- ‘आप लोगों को लग रहा होगा मुख्यमंत्री का बेटा है, इसे क्या कमी है. यहां से खड़े होकर बात कर रहा है. हम लोगों को दूसरे भी काम हैं. लेकिन, मैं बता दूं कि मुझे पद की कोई लालसा नहीं. पावर किसी पद में नहीं, व्यक्ति में होता है. मुझमें काबिलियत होगी तो मैं अपने आप आगे बढ़ जाऊंगा.’

अगर जिंदगी में कठिनाई तो आप गलत दिशा में हैं- कार्तिकेय

कार्तिकेय नेकहा- हम इतिहास उठाकर देख लें, जितने भी क्रांतिकारी थे, सभी युवा थे. आप स्वामी विवेकानंद को पढ़ेंगे तो जीवन के बारे में आपके विचार बदलेंगे. अगर आपकी जिंदगी में कठिनाई नहीं है तो आप गलत दिशा में हैं. कार्यक्रम में कार्तिकेय ने अपील की कि आप लोग किसी एक्सीडेंट को देखें तो घायल व्यक्ति को अस्पताल पहुंचा दें. इससे आपको काफी शांति मिलेगी.





Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *