बेंगलुरु: अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन की कमी के चलते VVIPs को भी नहीं किया जा रहा भर्ती

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  



<p>देश में कोरोना की दूसरी लहर ने कोहराम मचाया हुआ है. एक ओर लाखों का तादाद में प्रतिदिन मामले सामने आ रहे है तो वहीं, सैकड़ों लोग अपनी रोजाना जान गवां रहे हैं. वहीं, स्वास्थ्य व्यवस्था भी चरमायी हुई दिख रही है.</p>
<p>अस्पतालों में बिस्तर नहीं है वहीं, ऑक्सीजन की भारी किल्लत से लोग जूझ रहे हैं. ऐसा ही कुछ अब बेंगलुरु में देखने को मिल रहा है. बेंगलुरु में ना केवल आम जनता इससे परेशान दिख रही है, बल्कि वीवीआईपी, मिनिस्टर्स, सितारे और खुद स्वास्थ्य कर्मी इससे जूझ रहे हैं. बेंगलुरु में ज्यादातर सभी प्राइवेट अस्पतालों ने अपने अस्पताल के बाहर नोटिस लगा दिया है जे साफ शब्दों में कहता है कि अस्पताल में बेड नहीं है और ऑक्सीजन बेहद कम मात्रा में बची है.</p>
<p><strong>वीवीआईपीस की तरफ से भारी संख्या में आ रहे कॉल्स</strong></p>
<p>सूत्रों के मुताबिक, स्वास्थ्य मंत्रालय और तमाम मिनिस्टर्स के पास भारी तादाद में बेड की मांग के लिए वीवीआईपीस की तरफ से कॉल्स और मैसेज आ रहे हैं लेकिन निराशापूर्वक उन्हें मना कर दिया जा रहा है. हाल ही में पूर्व सीएम कुमारस्वामी कोरोना से संक्रमित हुए थे. उन्होंने मनीपाल अस्पताल में बेड लेने का प्रयास किया था लेकिन उन्हें नहीं मिल सका जिसके बाद उन्हें अपोलो अस्पताल में बेड मिला.</p>
<p><strong>ऑक्सीजन की कमी के चलते भर्ती नहीं किया जा सकता- अस्पताल</strong></p>
<p>वहीं, येदियुरप्पा के मंत्रिमंडल के एक नेता को अपने किसी रिश्तेदार के लिए अस्पताल में बिस्तर लेने में कठनाई आयी थी. उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन की समस्या होने पर उन्हें भर्ती कराना चाह रहे थे लेकिन किसी अस्पताल में बेड नहीं मिला जिसके बाद सिलेंडर लेकर उनका घर पर ही इलाज शुरू किया गया. उन्होंने बताया कि कोई भी प्राइवेट अस्पताल भर्ती करने को तैयार नहीं था. अस्पतालों का कहना था कि ऑक्सीजन की कमी के चलते भर्ती नहीं किया जा सकता. वहीं, बाद में उन्हें मेसूर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया.</p>
<p><strong>जिनका ऑक्सीजन लेवल 90 प्रतिशत से कम है उन्हीं को भर्ती किया जाएगा- स्वास्थ्य मंत्रालय</strong></p>
<p>वहीं, अस्पतालों में डॉक्टर्स की भी कमी देखने को मिल रही है. दरअसल, सोशल मीडिया पर सैंडलवुड अभिनेता अनिरुद्ध विश्नूवर्धन ने एक टीवी चैनल को बताया कि अस्पतालों में ना केवल बेड और ऑक्सीजन की कमी है बल्कि स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स भी नहीं है. जिसके चलते उन्होंने अपने एक करीबी को खो दिया.</p>
<p>बता दें, स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने बीते हफ्ते अपने एक बयान में कहा था कि केवल उन लोगों को अस्पताल में भर्ती किया जाएगा जिनका ऑक्सीजन लेवल 90 प्रतिशत से कम हो गया है.</p>
<p><strong>यह भी पढ़ें.</strong></p>
<p><strong><a href="https://www.abplive.com/news/india/west-bengal-election-result-2021-tmc-wrote-to-the-election-commission-regarding-re-counting-in-nandigram-mamta-says-will-go-to-court-1909350">नंदीग्राम में दोबारा मतगणना को लेकर TMC ने चुनाव आयोग को लिखा पत्र, ममता बोलीं- कोर्ट जाएंगे</a></strong></p>



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *