बिहार: पप्पू यादव की रिहाई की मांग को लेकर भूख हड़ताल बैठे जाप नेता

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना
Published by: अजय सिंह
Updated Wed, 21 Jul 2021 08:48 AM IST

सार

पूर्व सांसद पप्पू यादव को 32 साल पुराने अपहरण के एक मामले में 11 मई को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है।

पूर्व सांसद पप्पू यादव
– फोटो : social media

ख़बर सुनें

 जन अधिकार पार्टी (जाप) के नेता पप्पू यादव की रिहाई सहित अपनी पांच सूत्री मांगों को लेकर पार्टी के अन्य नेताओं ने सोमवार को राज्यव्यापी भूख हड़ताल शुरू की।

जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव की रिहाई और बढ़ती महंगाई सहित पांच सूत्री मांगों को लेकर आयोजित इस भूख हड़ताल कार्यक्रम में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राघवेन्द्र कुशवाहा ने आरोप लगाया कि कोरोना पीड़ितों की मदद कर रहे पूर्व सांसद पप्पू यादव द्वारा बिहार सरकार की नाकामियों को उजागर किए जाने से घबराकर राज्य सरकार ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है ।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जाप के राष्ट्रीय महासचिव व प्रवक्ता प्रेमचन्द सिंह ने आरोप लगाया कि सरकार के पास कीमतें बढ़ने के हर तर्क मौजूद हैं, मगर उन्हें रोकने का एक भी उपाय नहीं है।

जाप की पांच सूत्री मांगों में पप्पू यादव की रिहाई, बढ़ती महंगाई पर रोक, बाढ़ प्रभावितों के लिए पर्याप्त राहत कार्य , ओबीसी आरक्षण को जारी रखना और सरकारी संस्थानों के निजीकरण पर रोक लगाना शामिल है ।

गौरतलब है कि पप्पू यादव को 32 साल पुराने अपहरण के एक मामले में 11 मई को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है।

 

विस्तार

 जन अधिकार पार्टी (जाप) के नेता पप्पू यादव की रिहाई सहित अपनी पांच सूत्री मांगों को लेकर पार्टी के अन्य नेताओं ने सोमवार को राज्यव्यापी भूख हड़ताल शुरू की।

जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव की रिहाई और बढ़ती महंगाई सहित पांच सूत्री मांगों को लेकर आयोजित इस भूख हड़ताल कार्यक्रम में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राघवेन्द्र कुशवाहा ने आरोप लगाया कि कोरोना पीड़ितों की मदद कर रहे पूर्व सांसद पप्पू यादव द्वारा बिहार सरकार की नाकामियों को उजागर किए जाने से घबराकर राज्य सरकार ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है ।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जाप के राष्ट्रीय महासचिव व प्रवक्ता प्रेमचन्द सिंह ने आरोप लगाया कि सरकार के पास कीमतें बढ़ने के हर तर्क मौजूद हैं, मगर उन्हें रोकने का एक भी उपाय नहीं है।

जाप की पांच सूत्री मांगों में पप्पू यादव की रिहाई, बढ़ती महंगाई पर रोक, बाढ़ प्रभावितों के लिए पर्याप्त राहत कार्य , ओबीसी आरक्षण को जारी रखना और सरकारी संस्थानों के निजीकरण पर रोक लगाना शामिल है ।

गौरतलब है कि पप्पू यादव को 32 साल पुराने अपहरण के एक मामले में 11 मई को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है।

 



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *