बारिश से आफत: 35 घंटे बाद खुला टनकपुर-पिथौरागढ़ हाईवे, लेकिन खतरे से खाली नहीं आवाजाही, तस्वीरें…

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंपावत/पिथौरागढ़ Published by: अलका त्यागी Updated Wed, 21 Jul 2021 11:25 PM IST

मंगलवार सुबह आठ बजे से बंद टनकपुर-पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच) को 35 घंटे बाद बुधवार शाम सात बजे के करीब खोल दिया गया है। कठौल, चल्थी, स्वांला और धौन समेत चार जगहों पर आवाजाही अब भी खतरनाक बनी हुई है।

पानी-पानी हुई राजधानी: देहरादून में मूसलाधार बारिश से तालाब बनीं सड़कें, घरों में घुसा पानी, तस्वीरें… 

मार्ग बंद होने से सब्जियों की कीमतों में बुधवार को 10 से 15 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हो गई। इससे पहले चंपावत में फंसी रोडवेज की 13 बसों और अन्य वाहनों को बुधवार सुबह देवीधुरा होते हुए हल्द्वानी और दूसरे मैदानी मार्गों को भेजा गया।

ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे: चलती कार पर पहाड़ी से गिरा बोल्डर, डिग्री कॉलेज के प्रवक्ता की मौत

छह जेसीबी और पोकलैंड लगाकर राष्ट्रीय राजमार्ग खंड बुधवार शाम को सड़क से मलबे को हटाने में कामयाब रहा। इससे पहले एसडीएम अनिल गर्ब्याल, डीडीएमओ मनोज पांडेय के नेतृत्व में प्रशासनिक दल ने मौके पर पहुंचकर तेजी से खुलवाने और फंसे लोगों को राहत पहुंचाने का काम किया।

प्रशासन और स्वयंसेवी संगठनों ने खाने और जरूरी व्यवस्था की गई। डीएम विनीत तोमर ने बताया कि मार्ग बंद होने के दौरान वाहनों को बनलेख और टनकपुर में ककरालीगेट में ही रोकने के निर्देश दिए गए हैं।



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *