पैट कमिंस बोले- ऑस्ट्रेलिया सीरीज में विराट कोहली के लौटने के बाद ‘दीवार’ पुजारा थे निशाने पर


मेलबर्नः ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने चेतेश्वर पुजारा को ‘दीवार’ करार देते हुए कहा है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली के पहले टेस्ट के बाद भारत लौटने पर उन्होंने पुजारा के विकेट को लक्ष्य बनाया था.कोहली ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर आखिरी तीन टेस्ट नहीं खेले थे. कमिंस ने कहा कि पुजारा अपनी अडिग बल्लेबाजी से उस सीरीज में निर्णायक साबित हुए. भारत ने सीरीज 2 . 1 से जीती.

मध्यक्रम की बल्लेबाजी की दीवार हैं पुजारा

कमिंस ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो से कहा ,‘‘ मेरी नजर में पुजारा ईंट की दीवार थे.विराट के जाने के बाद पुजारा मेरे लिये बड़ा विकेट था.’’ उन्होंने कहा ,‘‘ वह दो साल पहले सीरीज में निर्णायक साबित हुआ था. वह मध्यक्रम में उनकी दीवार था. मैं भी वह सीरीज खेला था और मैं जानता था’’

कमिंस ने कहा ,‘‘ सिडनी में ड्रॉ में उन्होंने निर्णायक भूमिका निभाई और फिर गाबा पर जीत में भी उसने सीरीज में अपनी छाप बखूबी छोड़ी’’पुजारा और कमिंस का आमाना-सामना भी सीरीज के आकर्षण में रहा. कमिंस ने आठ में से पांच पारियों में पुजारा को आउट किया. पुजारा ने उनकी 928 गेंदों का सामना करके 271 रन बनाये.

ब्रिसबेन टेस्ट में पुजारा ने रखी थी जीत की नींव

कमिंस ने कहा ,‘‘ पहले दो मैचों के बाद मुझे लगा कि पुजारा अपनी शैली में कुछ बदलाव करके गेंदबाजों पर दबाव बनाने की कोशिश करेंगे लेकिन उन्होंने कुछ और ही किया. उनकी सोच थी कि वह अपने खेल को बखूबी जानते हैं और क्रीज पर डटे रहेंगे, रन खुद ब खुद बनेंगे. वह कठिन स्पैल का सामना करने के लिये ही डटे हुए थे.’’ उन्होंने कहा कि एक गेंदबाज के लिये पुजारा को गेंद डालना कठिन चुनौती है क्योंकि वह किसी से डरते नहीं हैं .

पुजारा ने ब्रिसबेन में आखिरी टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के तेज आक्रमण के सारे प्रहार खुद झेलते हुए 211 गेंदों में 56 रन बनाकर भारत की ऐतिहासिक जीत की नींव रखी थी.

यह भी पढ़ें
Tendulkar-Cook Trophy: इस खिलाड़ी ने भारत और इंग्लैंड सीरीज का नाम सचिन-कुक ट्रॉफी रखे जाने की मांग की

Wasim Jaffer ने सांप्रदायिकता के आरोपों को खारिज किया, कहा- मैं ऐसा नहीं हूं



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *