अप्रैल से गरीब रथ और दूसरे ट्रेनों में लगेंगे नए इकोनॉमी एसी-3 कोच, जानिए इनकी खासियत


गरीब रथ में अप्रैल से मिलेंगे नए इकोनॉमी एसी-3 कोच
– फोटो : social media

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

अप्रैल के महीने से भोपाल रेल मंडल को भोपाल-लखनऊ गरीब रथ समेत दूसरी ट्रेनों के लिए इकोनॉमी एसी-3 कोच मिलने लग जाएंगे। भोपाल रेल मंडल को जैसे ही ये कोच मिलेंगे, यहां एसी-2 की श्रेणी में बर्थ संख्या 72 से बढ़कर 83 पर पहुंच जाएगी। इसके अलावा यात्रियों को कम किराए की भी सुविधा मिलेगी।

जानकारी के मुताबिक, इस श्रेणी में रिजर्वेसन करवाने वालों को किराए में पांच से दस फीसदी तक की कमी हो जाएगी। भोपाल रेल मंडल के वरिष्ठ डीसीएम विजय प्रकाश का कहना है कि ये यात्रियों को ज्यादा सुविधा देने के लिए बनाए जा रहे हैं ताकि सामान्य स्लीपर से थोड़ा ज्यादा किराया देकर आम आदमी एसी-3 कोच में सफर कर सके।

बता दें कि कपूरथला समेत दूसरे कोच फैक्ट्री में इन कोचेस का निर्माण कार्य चल रहा है। सामान्य तौर पर एससी-3 के कोच में 72 बर्थ होती हैं। एलएचबी टेक्नोलॉजी के एसी-3 कोच में यह संख्या 78 तक संभव है। हालांकि इकोनॉमी क्लास में नए कोच में पांच और अधिक बर्थ की संख्या होगी। यानि कि कोच की संख्या 72 से बढ़कर 83 पर पहुंच जाएगी। 

इन नए कोच में क्या होगा खास?

  • इन नए कोच का किराया स्लीपर से एसी-3 श्रेणी के बीच का रहेगा।
  • बीच और ऊपर की बर्थ पर आने-जाने के लिए सीढ़िया दी गई हैं।
  • रात में रोशनी की सुविधा के लिए एलईडी लाइट्स दी गई हैं।
  • शौचालयों के डिजाइन में सुधार किया है और दिव्यांगों के लिए आसानी की गई है। 
  • पहले के मुकाबले इस बार शौचालय का गेट थोड़ा चौड़ा रहेगा, इससे व्हील चेयर लाने-ले जाने में आसानी होगी।
  • इन नए कोच में फुट ऑपरेटेड वॉटर सिस्टम लगाया जाएगा। 
  • कोच में आग से बचाव के लिए आधुनिक फायर सिस्टम को लगाया गया है।
अप्रैल के महीने से भोपाल रेल मंडल को भोपाल-लखनऊ गरीब रथ समेत दूसरी ट्रेनों के लिए इकोनॉमी एसी-3 कोच मिलने लग जाएंगे। भोपाल रेल मंडल को जैसे ही ये कोच मिलेंगे, यहां एसी-2 की श्रेणी में बर्थ संख्या 72 से बढ़कर 83 पर पहुंच जाएगी। इसके अलावा यात्रियों को कम किराए की भी सुविधा मिलेगी।

जानकारी के मुताबिक, इस श्रेणी में रिजर्वेसन करवाने वालों को किराए में पांच से दस फीसदी तक की कमी हो जाएगी। भोपाल रेल मंडल के वरिष्ठ डीसीएम विजय प्रकाश का कहना है कि ये यात्रियों को ज्यादा सुविधा देने के लिए बनाए जा रहे हैं ताकि सामान्य स्लीपर से थोड़ा ज्यादा किराया देकर आम आदमी एसी-3 कोच में सफर कर सके।

बता दें कि कपूरथला समेत दूसरे कोच फैक्ट्री में इन कोचेस का निर्माण कार्य चल रहा है। सामान्य तौर पर एससी-3 के कोच में 72 बर्थ होती हैं। एलएचबी टेक्नोलॉजी के एसी-3 कोच में यह संख्या 78 तक संभव है। हालांकि इकोनॉमी क्लास में नए कोच में पांच और अधिक बर्थ की संख्या होगी। यानि कि कोच की संख्या 72 से बढ़कर 83 पर पहुंच जाएगी। 

इन नए कोच में क्या होगा खास?

  • इन नए कोच का किराया स्लीपर से एसी-3 श्रेणी के बीच का रहेगा।
  • बीच और ऊपर की बर्थ पर आने-जाने के लिए सीढ़िया दी गई हैं।
  • रात में रोशनी की सुविधा के लिए एलईडी लाइट्स दी गई हैं।
  • शौचालयों के डिजाइन में सुधार किया है और दिव्यांगों के लिए आसानी की गई है। 
  • पहले के मुकाबले इस बार शौचालय का गेट थोड़ा चौड़ा रहेगा, इससे व्हील चेयर लाने-ले जाने में आसानी होगी।
  • इन नए कोच में फुट ऑपरेटेड वॉटर सिस्टम लगाया जाएगा। 
  • कोच में आग से बचाव के लिए आधुनिक फायर सिस्टम को लगाया गया है।



Source link

Author: riteshkucc01

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *